amit shah in hyderabad
amit shah in hyderabad

हैदराबाद। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि देशभर से घुसपैठियों को चुन-चुनकर निकाला जाएगा। वे हैदराबाद में विजय लक्ष्य 2019 युवा महाधिवेशन को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान शाह ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर खूब शब्दबाण छोड़े। उन्होंने लोगों को संबांधित करते हुए कहा कि केंद्र में एक बार फिर नरेंद्र मोदी की सरकार बनवाएं, कश्मीर से कन्याकुमारी तक घुसपैठियों को चुन-चुनकर निकाला जाएगा।

इस मौके पर उन्होंने कांग्रेस पर भी कई सवाल दागे और भाजपा के बढ़ते जनाधार की चर्चा की। उन्होंने असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर के बारे में कहा कि इससे लाखों लोगों को घुसपैठिए के रूप में चिह्नित किया गया। उन्होंने इसे राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा मामला बताया। शाह ने कहा कि इससे समझौता नहीं करेंगे।

अमित शा​ह ने तेलंगाना की चंद्रशेखर राव सरकार पर आरोप लगाया कि उसने ओवैसी के डर से हैदराबाद लिबरेशन डे मनाना बंद कर दिया था। शाह ने सरदार पटेल को याद किया। उन्होंने कहा कि हैदराबाद वह जगह है जहां से सरदार पटेलजी ने भारत को एक करने का सिंहनाद किया था और निजाम को दुम दबाकर भागना पड़ा।

अमित शाह ने कांग्रेस पर आरोप लगाया कि उसने गरीबों के लिए कुछ नहीं किया। उन्होंने कहा, राहुल, बाबा हम साढ़े चार सालों का हिसाब आपको नहीं देना चाहते हैं क्योंकि आपको हिसाब मांगने का अधिकार नहीं है। शाह ने कहा, आपने (कांग्रेस) चार पीढ़ी तक शासन करके भी गरीबों के लिए कुछ नहीं किया। इस मौके पर शाह ने आयुष्मान भारत योजना का उल्लेख किया और बोले कि इससे देश के करीब 50 करोड़ लोगों को लाभ होगा।

अमित शाह ने महागठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि एक तरफ प्रधानमंत्री मोदी के रूप में ‘मेक इन इंडिया’ को समर्पित एक निर्णायक नेतृत्व है, वहीं दूसरी ओर नीति, नीयत, नेतृत्व और सिद्धांत विहीन ‘ब्रेकिंग इंडिया’ की तुच्छ राजनीति करने वाला महागठबंधन। शाह ने कांग्रेस पर चुटकी लेते हुए कहा कि राहुल बाबा आपकी पार्टी को तो दूरबीन लेकर ढूंढ़ना पड़े, ऐसा हो गया है। शाह ने भाजपा को 2019 में मोदी के नेतृत्व में चुनाव लड़ने के लिए तैयार बताया है।

अमित शाह ने कहा, मैं युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं से आह्वान करता हूं कि आप मोदी सरकार की लोक-कल्याणकारी नीतियों को घर-घर तक पहुंचाएं और एक ऐसी प्रचंड विजय की नींव रखें जिससे परिवारवाद और तुष्टिकरण की राजनीति करने वाली सभी विपक्षी पार्टियों को 2019 के बाद दूरबीन लेकर ढूंढ़ना पड़े।

अमित शाह ने कहा कि 10 साल तक अर्थशास्त्री माने जाने वाले मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री रहे और देश को विश्व के अर्थतंत्र की तालिका में एक स्थान भी ऊपर नहीं कर पाए। प्रधानमंत्री मोदी चार साल में ही देश को नौवें स्थान से छठे स्थान पर ले आए और 2019 तक हम भारत को पांचवें स्थान तक भी पहुंचा देंगे।

ये भी पढ़िए:
– आतंक की आग में झुलसा पाकिस्तान तो आया होश, अब देगा 14 आतंकियों को सज़ा-ए-मौत
– वीडियो: अदालत से भागे अपराधी तो जज ने दिखाई हिम्मत, दौड़ लगाकर दबोचा
– करवा चौथ पर धूम मचा रहा सपना का ‘मेरा चांद’ गाना, 9 करोड़ से ज्यादा बार देखा गया
– चाकू लेकर स्कूल में घुसी महिला ने किया हमला, 14 बच्चे घायल

LEAVE A REPLY