congress parliamentary party meeting
congress parliamentary party meeting

नई दिल्ली/दक्षिण भारत। कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में बुधवार को पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने आगामी लोकसभा चुनाव के लिए रणनीति पर चर्चा की। साथ ही सांसदों को जीत का मंत्र दिया। बैठक में यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह, वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खरगे, गुलाम नबी आजाद सहित पार्टी के सांसदों ने भाग लिया। इस दौरान सोनिया गांधी ने केंद्र सरकार पर शब्दबाण छोड़े और लोकसभा चुनाव में पार्टी द्वारा पूरी ताकत से उतरने की बात कही।

सोनिया गांधी ने राहुल की खूब तारीफ की। उन्होंने कहा कि राहुल संगठन में नई ऊर्जा लेकर आए हैं। उन्होंने ऐसी टीम बनाई है जिसमें अनुभव और युवा जोश का सही समन्वय है। उन्होंने कहा कि हम नए आत्मविश्वास और निश्चय के साथ आगामी लोकसभा चुनाव में उतर रहे हैं। इस मौके पर उन्होंने हाल में हुए विधानसभा चुनावों में मिली जीत का भी जिक्र किया। सोनिया ने कहा कि राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में हमारी जीत ने नई आशा दी है।

सोनिया गांधी ने कहा कि प्रतिद्वंद्वियों को पहले अजेय बताया जाता था। कांग्रेस अध्यक्ष ने सामने से डटकर उनका मुकाबला किया। उन्होंने कहा कि राहुल ने लाखों कार्यकर्ताओं को प्रेरित किया जिन्होंने उनके साथ मिलकर अपना सबकुछ दिया। उन्होंने केंद्र सरकार की नीतियों को लेकर लोकतंत्र और धर्मनिरपेक्षता जैसे मुद्दों पर सवाल उठाए।

सोनिया गांधी ने राहुल के लिए कहा कि वे अथक परिश्रम कर रहे हैं और भारत के लिए हमारे दृष्टिकोण के समान विचारधारा रखने वाले दलों से भी मिल रहे हैं। सोनिया ने केंद्र पर आरोप लगाया कि सच्चाई और पारदर्शिता को एकदम दरकिनार कर दिया गया है। उन्होंने देश में डर और संघर्ष का माहौल होने का दावा भी किया। सोनिया गांधी ने केंद्र सरकार पर असहमत लोगों और अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को दबाने का आरोप लगाया।

LEAVE A REPLY