सिरदर्द का कोई एक कारण नहीं होता। इसके कई कारण हो सकते हैं। जिन्हें नीचे दी गई पाँच श्रेणियों में बाँटा गया है।त्रद्मय्प् फ्ष्ठ ब्ह्द्मष्ठ प्य्ध्य् ्यफ्द्यख्रख्रश्च९० प्रतिशत सिरदर्द के मामले तनाव जनित होते हैं। तनाव होने से खोप़डी को ढकने वाली पेशियों में संकुचन होने लगता है। फलत: मस्तिष्क की ओर खून का प्रवाह कम हो जाता है। इसीलिए हमें सिर के चारों ओर दर्द महसूस होता है।द्बय्ंख्श्नष्ठद्ममाइग्रेन सिर्फ दुखदायी सिरदर्द नहीं। कुछ लोगों को बिना सिरदर्द के भी माइग्रेन होता है। माइग्रेन क्यों होता है यह अभी भी एक रहस्य है। अब तक हुई रिसर्च यह कहती है कि यह किसी आनुवांशिक असामान्यता से उपजी तंत्रिका तंत्र की बीमारी है। माइग्रेन शुरु करने वाले कारणों को ट्रिगर कहते हैं जैसे तनाव, अनिद्रा, तेज रोशनी, शराब, चीज, कॉफी आदि। ट्रिगर चेन रिएक्शन शुरु करता है और माइग्रेन कहलाने वाला सिरदर्द देता है। फ्य्ंद्मफ् ्यफ्द्यख्रख्रश्चसिरदर्द के कारण, उनके प्रकार और उपचार उलझ देते हैं। कई बार माइग्रेन को गलती से साइनस सिरदर्द समझ लिया जाता है। साइनस सिरदर्द तब होता है जब आपके साइनस में संक्रमण हो जाता है और उसमें जलन होने लगती है। आमतौर पर अन्य लक्षण भी उभरते हैं जैसे संकुलन, बुखार और थकान।€ध्डट्टद्य ्यफ्द्यख्रख्रश्चयह सिरदर्द का एक अन्य प्रकार है जो हमेशा सिरदर्द ही नहीं होता। माइग्रेन के मुकाबले यह कम देखने में आता है और उससे ज्यादा दर्दनाक होता है। क्लस्टर सिरदर्द अधिकतर पुरुषों को होता है। इसका कारण भी रहस्यमय ही है। अब नए शोधों से उम्मीद है कि वे शायद इसकी गुत्थी सुलझ सकें और इसके मरीजों को आराम नसीब हो। क्लस्टर सिरदर्द साइनस, नर्वस सिस्टम और सेरोटोनिन से संबंधित हो सकता है। त्रद्मय्प् ज्यद्मत्र्यफ्द्यख्रख्रश्च फ्ष्ठ·र्स्ैंफ्ष्ठ ्यद्मझ्ट्टष्ठ्र?९० प्रतिशत सिरदर्द तनाव से होते हैं। अगर यह आपकी जिंदगी व काम पर कोई ज्यादा दखलअंदाजी नहीं कर रहा तो आप पैरासीटामोल जैसा सामान्य व सुरक्षित दर्द निवारक ले सकते हैं। पैरासीटामोल का इस्तेमाल हल्के से मध्यम स्तर के दर्द से राहत पाने के लिए होता है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY