शलजम एक ऐसी सब्जी है, जो खाने में काफी स्वादिष्ट लगती है। शलजम की सब्जी पोषक तत्वों से भरपूर होती है। विटामिन ए, सी और के से भरपूर इस हरे पत्तेदार को सलाद के रूप में भी खाया जाता है। इसमें कम कैलोरी होती है, जिस वजह से ये वजन कम करने वालों के लिए एक बेहतर विकल्प है। फाइबर से भरपूर ये सब्जी पाचन को बेहतर करने और आपको कब्ज जैसी गंभीर समस्या से बचाने में भी सहायक है। कहते हैं कि अगर आप शलगम की सब्जी खाने में शामिल करते हैं, तो इससे हार्ट अटैक की समस्या खत्म होती है। शलजम में भरपूर मात्रा में फाइबर होते हैं, जिस वजह से ये मल त्याग में सुधार करने में सहायक है। अगर आप कब्ज की समस्या से पीि़डत हैं, तो ये सब्जी जरूर खाएं। वहीं, इम्युनिटी मजबूत करनी हो, तो भी आप शलजम का सेवन कर सकते हैं। अगर आप बार-बार सर्दी-खांसी और बुखार से पीि़डत होते हैं, तो शलजम को अपनी डायट में जरूर शामिल करें। ये इम्युनिटी मजबूत करने में सहायक है। पोषक तत्वों और फ्लेवोनोइड्स से भरपूर ये सब्जी आपको स्वस्थ रखती है।ब्यरद्भह्र ·र्ैंह् द्बज्द्धरूत्र ·र्ैंद्य ब्य्ट्टश्च ·र्ष्ठैं ्यध्ॅ द्धष्ठब्त्रद्य ्यप्·र्ैंत्झ् ब्स् प्रय्ध्ज्द्बविटामिन और पोटेशियम के अलावा, शलजम कैल्शियम का भी एक समृद्ध स्रोत है, जो हड्डियों के स्वास्थ्य को ब़ढावा देने में मदद करता है। खराब कोलेस्ट्रॉल कम करने में भी शलगम मददगार साबित है। शलजम में पित्त या बाइल को अधिक अवशोषित करने की क्षमता होती है, जिससे शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम होने में मदद मिलती है। इस तरह ये सब्जी हृदय रोगों के खतरे को भी कम करने में मदद करती है।वहीं, अगर आपको ब्लड प्रेशर कम करना हो, तो आप शलगम का सेवन कर सकते हैं। अध्ययन के अनुसार, शलजम में पोटेशियम की मात्रा अधिक होती है, जिस वजह से ये आपकी धमनियों को फैलाने और शरीर से सोडियम जारी करने में सहायक है।

LEAVE A REPLY