दक्षिण-पूर्व एशिया में पाई जाने वाली मौसंबी गर्मियों के मौसम में सबसे ज्यादा खाए जाने वाले फलों में से एक है। इसके छीलके उतारकर इसे साबुत खाने से ज्यादा लोग इसका जूस पीना पसंद करते हैं। हरे रंग के खट्टे-मीठे स्वाद वाला यह फल पकने पर पीले रंग का नजर आता है। यह काफी कुछ नींबू और संतरे की तरह लगता है। झ्य्घ्द्म द्बष्ठ्र र्ड्डैंय्द्भख्रष्ठद्बैंख्रमौसंबी में फ्लेवोनॉइडस की भरपूर मात्रा किसी भी प्रकार के भोजन के पाचन में बहुत ही जरूरी होती है, इसलिए अपचन, गैस और पेट में मरो़ड जैसी समस्या होने पर मौसंबी का जूस पीने की सलाह दी जाती है। इसका जूस पीने से पेट में पचाने वाले जरूरी एंजाइम्स पैदा होते हैं जो बेकार के टॉक्सिन्स को बाहर निकालकर पाचन क्रिया को सही रखते हैं। इसका खट्टा-मीठा टेस्ट उल्टी, दस्त जैसी समस्याओं को भी दूर रखता है।·र्ैंŽज् फ्ष्ठ द्यय्ब्त्र ्यख्रध्य्त्रर्‍ ब्स्मौसंबी में मौजूद एसिडस शरीर के हानिकारक तत्वों को बाहर निकालते हैं। साथ ही इसमें मौजूद फाइबर्स कब्ज की समस्या से जूझ रहे व्यक्ति को राहत दिलाते हैं। इसके जूस में थो़डा सा नमक मिलाकर पीने से कब्ज से राहत मिलती है।अन्य उपाय : स्कर्वी से बचाती है, इम्यून सिस्टम सही रखती है, एंटीसेप्टिक और एंटीबैक्टीरियल होती है, डैंड्रफ खत्म करती है, दोमुंहे बालों की समस्या से छुटकारा, एंटी-एजिंग का काम करती है, होंठों के कालेपन को दूर करती है, त्वचा में निखार लाती है।ड·र्ैंप्र्‍श्च फ्ष्ठ द्धघ्य्त्रर्‍ ब्स्विटामिन सी की कमी से होने वाला रोग है स्कर्वी। इसके कारण मसू़डों में सूजन आ जाती है। साथ ही खून भी निकलता है। और-तो-और, मुंह में छाले, होंठों के फटने जैसी कई प्रकार की समस्याएं होने लगती हैं। सिर्फ कुछ दिनों तक लगातार मौसंबी का जूस पीकर इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। इसके जूस में थो़डी सा पानी और काला नमक डालकर पीना फायदेमंद होता है। यहां तक की इसे पीकर सांस से आने वाली बदबू को भी दूर किया जा सकता है।द्धय्ध्ह्र ·र्ैंह् ब्ह्द्मष्ठ प्य्ध्ष्ठ र्ड्डैंय्द्भख्रष्ठमौसंबी में मौजूद कई सारे फायदों के कारण कंपनियां अब इसे कॉस्मेटिक्स में भी इस्तेमाल करने लगी हैं। मौसंबी के रस का इस्तेमाल करके बालों से डैंड्रफ की समस्या को खत्म किया जा सकता है। इसके रस में मौजूद कई प्रकार के तत्व रूसी को रोकने के साथ ही लंबे और घने बालों के लिए भी बहुत कारगर होते हैं।ॅैंट्टर्‍फ्ष्ठ्य्रट्ट·र्ैं ृय्स्द्य ॅैंट्टर्‍द्धस्€ट्टर्‍्यद्यद्भध्मौसंबी में इन दोनों की अच्छी-खासी मात्रा होने से यह बालों के लिए भी काफी फायदेमंद है। इसे खाने के साथ ही इसका जूस पीने से बालों में चमक आ जाती है। साथ ही बाल मजबूत भी होते हैं।ख्रह् द्बरुैंब्ष्ठ द्धय्ध्ह्र ·र्ैंर्‍ फ्द्बडद्भय् फ्ष्ठ च्रुणट्ट·र्ैंय्द्यय्धूल, प्रदूषण और बदलते मौसम के कारण लगभग सभी के साथ दोमुंहे बालों की समस्या हो जाती है, लेकिन थो़डी सी सावधानी बरत कर इसे रोका जा सकता है। खाने के पहले या बाद, दिन में किसी भी एक वक्त रोजाना मौसंबी का जूस पिया जाए, तो बालों को दोमुंहे होने से बचाया जा सकता है।ह्वप्घ्य् ·र्ैंह् ब्ह्द्मष्ठ प्य्ध्ष्ठ र्ड्डैंय्द्भख्रष्ठहेल्थ और हेयर के अलावा मौसंबी में ऐसे कई सारे न्यूट्रिएंटस मौजूद होते हैं, जो त्वचा के लिए भी काफी फायदेमंद होते हैं। इसकी मीठी खूशबू, इसमें मौजूद विटामिन सी की मात्रा, यहां तक की इसके गूदे का इस्तेमाल भी कई सारे ब्यूटी प्रोडक्टस को बनाने के लिए किया जाता है। इसके साथ ही यह रफ और डल स्किन के लिए मॉइश्चराइ़जर का भी काम करती है।

LEAVE A REPLY