सेहत के लिए रामबाण हरी सब्जी जिसे हिन्दी में सहजन, सुरजन और मुनगा तो अंग्रेजी में ड्रमस्टिक के नाम से जाना जाता है गुणों की खान है। सहजन की यह फली न सिर्फ बि़ढया स्वाद के लिए मशहूर है, बल्कि सेहत और सौंदर्य के बेहतरीन गुणों से भी भरपूर है। महिलाओं के लिए सहजन का सेवन माहवारी संबंधी परेशानियों के अलावा गर्भाशय की समस्याओं से भी बचाता है।८ त्वचा पर होने वाली कोई समस्या या त्वचा रोग के लिए सहजन बेहद लाभप्रद है।८ इसकी कोमल पत्तियों और फूलों को भी सब्जी के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है जो आपको त्वचा की समस्याओं से दूर रखकर जवां बनाए रहने में भी मददगार है। ८ सहजन में विटामिन सी का स्तर उच्च होता है जो आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को ब़ढाकर कई बीमारियों से रक्षा करता है।८ बवासीर जैसी समस्याओं का इलाज भी सहजन के पास है।८ इसका सेवन करते रहने से बवासीर और कब्जियत की समस्या नहीं होती।८ वहीं पेट की अन्य बीमारियों के लिए भी यह फायदेमंद है। ८ बहुत ज्यादा सर्दी होने पर भी सहजन का सेवन फायदेमंद होता है।८ इसे पानी में उबालकर उस पानी की भाप लेना बंद नाक को खोलता है और सीने की जक़डन को कम करने में मदद करता है।८ गर्भावस्था के दौरान इसका सेवन महिलाओं और शिशु के लिए फायदेमंद होता है।८ गर्भावस्था में इसका सेवन करते रहने से शिशु के जन्म के समय आने वाली समस्याओं से बचा जा सकता है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY