ऑफिस का मतलब ही है कि व्यक्ति वहां पर काम करने जाता है। जाहिर है ऑफिस में काम का दबाव होता है। कभी-कभी काम के दबाव के कारण यदि किसी को झपकी आ जाती है तो यह समझा जाता है कि उसका मन काम में नहीं लग रहा और वह थका हुआ है। हाल में जर्मनी में हुए एक शोध के अनुसार टेबलवर्क करने वाले यदि पांच मिनट की झपकी ले लेते हैं तो इससे उनकी याददाश्त व कार्य करने की क्षमता ब़ढ जाती है। शोधकर्ताओं के अनुसार याददाश्त के मामले में रात की नींद का जो प्रभाव आपकी याददाश्त पर प़डता है, लगभग वैसा ही प्रभाव आफिस में पांच मिनट मिनट की झपकी लेने का होता है। शोधकर्ताओं ने १००-१०० लोगों के दो समूह बनाकर उन्हें याद करने के लिए ३० शब्द दिए। पहले समूह के लोगों से कहा गया कि वे आंख बंदकर झपकी लें, जबकि दूसरे समूह के लोगों को ऐसा नहीं करना था। इसके बाद दोनों समूहों के लोगों का मेमोरी टेस्ट किया गया। जिन लोगों ने झपकी ली थी, उन्होंने अधिक संख्या में शब्दों को याद किया। विशेषज्ञों के अनुसार पांच मिनट की झपकी लेने पर दिमाग की कोशिकाओं की थकान मिटती है और वे एक बार फिर तरोताजा हो जाती है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY