क्या आप भी बाकी ल़डकियों की तरह लंबे और घने बालों के सपने देखती हैं? क्या लाख कोशिश करने के बावजूद आपके बाल पतले और बेजान हैं? और देखें भी क्यो नहीं! लंबे, मजबूत और सुंदर बाल हर ल़डकी का सपना होते हैं। वैसे भी, लंबे बाल हमेशा फैशन में रहते हैं। ऐसे ही बाल पाने के लिए आपके पास एक आसान रास्ता है, शिकाकाई। इसका इस्तेमाल बरसों से बालों और स्कैल्प के लिए किया जाता रहा है। शिकाकाई बालों के लिए क्लींजर का काम करता है। शिकाकाई का इस्तेमाल साबुन के रूप में आसानी से किया जा सकता है। जानें बालों के लिए शिकाकाई साबुन के इस्तेमाल के क्या फायदे हैं।€ध्र्‍्रफ्द्यशिकाकाई बालों के लिए एक बहुत अच्छा क्लींसर का काम करता है। ये स्कैल्प की सफाई करता है जो बालों की ग्रोथ के लिए बहुत अच्छा है। इसके इस्तेमाल से आपके स्कैल्प में केमिकल भी नहीं पहुंचता जिससे बालों का स्वास्थ्य सुनिश्चित होता है।ठ्ठस्रणठ्ठुर्ड्डैं फ्ष्ठ च्रुणट्ट·र्ैंय्द्यय्शिकाकाई डैंड्रफ की समस्या के लिए समाधान है। इसमें एंटी-फंगल, एंटी-बैक्टीरिल और न्यूट्रीशनल तत्व मौजूद होते हैं। ये आपको डैंड्रफ से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं। इसके नियमित इस्तेमाल से आपके कंधे पर बिखरने वाले डैंड्रफ से छुटकारा पाना है तो शिकाकाई साबुन का इस्तेमाल जरूर करें।द्मब्र्‍्र ब्ह्ख्र्‍ द्गख्श्नष्ठ ब्ष्ठद्भद्यद्घ ·र्ैंर्‍ फ्द्बडद्भय्कुछ लोगों को काफी कम उम्र में ही ग्रे हेयर की समस्या हो जाती है। यानी उनके कुछ बाल सफेद होने लगते हैं। शिकाकाई साबुन का इस्तेमाल करके आप अपने बालों को प्राकृतिक रूप से काला रख सकते हैं। इससे बालों पर एजिंग के प्रभाव दिखने कम हो जाते हैं।द्बज्द्धरूत्र द्धय्ध्अगर आपके बाल मजबूत नहीं है तो वो टूटेंगे और झ़डेंगे। बहुत से लोगों के लिए तो कंघा करना तक मुश्किल हो जाता है बालों की कमजोरी की वजह से। शिकाकाई इस समस्या से आपको निजात दिला सकता है। शिकाकाई से बालों को मजबूती मिलती है। ये बालों की ग्रोथ को नेचुरली ब़ढा देता है।द्धय्ध् ब्ह्त्रष्ठ ब्स्र च्चय्द्मष्ठबाल झ़डना किसी भी ल़डकी के लिए बुरे सपने जैसा होता है लेकिन आप बालों के झ़डने की इस समस्या पर रोक लगाकर अपने बालों को घना बना सकती हैं। ऐसा करने में आपकी मदद करेगा शिकाकाई। शिकाकाई आपके बालों को आवश्यक पोषण देता है और उसे घना करने में मदद करता है।च्णह्ट्टर्‍ घ्ह्ट्टह्र द्बष्ठ्र ृय्द्यय्द्बशिकाकाई में औषधीय तत्व भी होते हैं। स्कैल्प में लगे छोटे-मोटे कट और खरोंचों का इलाज इसी शिकाकाई से हो जाता है। अगर ऐसी चोटों में आप शैंपू और दूसरे लोशन लगाते हैं, आपकी त्वचा को और नुकसान पहुंच सकता है। पर शिकाकाई ऐसी चोटों को ठीक कर देता है।·र्रूैं्यध्ैंख् ब्ष्ठद्भद्य झ्स्·र्ैंशिकाकाई एक सूदिंग-कूलिंग हेयपैक बनाने के लिए एक परफेक्ट इन्ग्रीडिएंट है। आमतौर पर शिकाकाई, आमला, दही को मिलाकर ये पैक तैयार किया जा सकता है और पूरी गर्मियों इसका इस्तेमाल किया जाए तो बहुत फायदेमंद होगा।

LEAVE A REPLY