general bipin rawat
general bipin rawat

नई दिल्ली। सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा है कि आतंकवादियों के खिलाफ एक और सर्जिकल स्ट्राइक की ज़रूरत है। उन्होंने पाकिस्तान और आतंकवाद के मुद्दे पर बड़ा बयान दिया। जनरल रावत ने कहा कि जब तक पाकिस्तान में सेना और आईएसआई वहां की सरकार के अधीन नहीं होंगी, सरहद पर हालात सुधरने वाले नहीं हैं। उन्होंने हाल की घटनाओं के मद्देनजर आतंकियों पर सख्त कार्रवाई को उचित बताया और कहा कि इनके खिलाफ एक और सर्जिकल स्ट्राइक की जरूरत है।

जनरल रावत ने कहा कि कश्मीर में आतंकियों द्वारा पुलिसकर्मियों की हत्या से जाहिर होता है कि वे निराश हैं। उनके खिलाफ सेना का अभियान जारी रहेगा। उन्होंने कश्मीर में आम आदमी के लिए कहा कि उसे मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। दूसरी ओर अलगाववादियों के रिश्तेदार विदेशों में मौज कर रहे हैं।

आतंकियों द्वारा कश्मीरियों को दी गई धमकी पर जनरल रावत ने कहा कि कश्मीर का युवा नौकरी ढूंढ़ रहा है, वहीं अलगाववादी और आतंकवादी उन्हें कह रहे हैं कि नौकरी छोड़ों और आतंकवादी बनो। जनरल रावत ने कहा कि सेना का आधुनिकीकरण जारी है। उन्होंने सेना के मौजूदा हथियारों के आधुनिकीकरण पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि साइबर संबंधी मामलों से निपटने के लिए भी काम किया जा रहा है।

गौरतलब है कि सेना प्रमुख जनरल रावत ने भारत सरकार द्वारा पाकिस्तान से विदेश मंत्री स्तर की मुलाकात रद्द करने को सही ठहराया। उन्होंने आतंकियों पर कठोर कार्रवाई का पक्ष लिया तो पाकिस्तानी फौज भड़क गई। उसने धमकी देते हुए कहा कि वे परमाणु हथियारों से लैस हैं और जंग के लिए तैयार हैं।

ये भी पढ़िए:
– इस देश के एक हिस्से में दिन तो दूसरे में होती है रात, पुरुषों से ज्यादा है महिलाओं की तादाद
– सेक्युलर मोर्चे के तौर पर शिवपाल ने साधे कई निशाने, क्या सपा को होगा नुकसान?
– अमित शाह ने बांग्लादेशी घुसपैठियों को बताया दीमक, कहा- ‘चुन-चुनकर बाहर निकालेंगे’
– इटली के वो 4 कानून जिन्हें जानकर आप हैरान रह जाएंगे, न मानने पर पड़ जाते हैं लेने के देने

LEAVE A REPLY