फोरेंसिक विशेषज्ञ और पुलिस की टीम जांच करते हुए।
फोरेंसिक विशेषज्ञ और पुलिस की टीम जांच करते हुए।

गुरुग्राम। गुरुग्राम में एक जज की पत्नी और बेटे को पुलिसकर्मी ने बीच बाजार गोली मार दी। इसके बाद वह फरार हो गया, लेकिन पकड़ा गया। जानकारी के अनुसार, अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश कृष्णकांत शर्मा के आवास पर पिछले दो वर्षों से तैनात पुलिसकर्मी ने शनिवार को उनकी पत्नी और बेटे पर गोलियां चला दीं। इसके बाद उन्हें गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

गोली मारने के बाद हैड कांस्टेबल महिपाल (32) फरार हो गया। उसे गुड़गांव-फरीदाबाद मार्ग से गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस मामले की जांच कर रही है और इस घटना की असल वजह जानने में जुटी है।

साथ जा रहा था बाजार
पुलिस ने बताया कि यह घटना शनिवार दोपहर करीब 3 बजे सेक्टर-49 में हुई। उस दौरान जज की पत्नी रीतू और बेटा ध्रुव खरीदारी के लिए बाजार जा रहे थे। उनके साथ सुरक्षाकर्मी महिपाल भी था। उसके बाद उक्त घटना हुई। पुलिसकर्मी ने दोनों को गोलियां मार दीं। स्थानीय लोगों ने पुलिस को इसके बारे में सूचना दी तो वह मौके पर पहुंची। वहां रीतू और ध्रुव गंभीर हालत में थे। उनके शरीर से खून बह रहा था।

गोली मारकर फरार
यकायक दो लोगों को गोली लगने की घटना से आसपास के इलाके में सनसनी फैल गई। जानकारी के अनुसार, रीतू और ध्रुव दवाई खरीदने गए थे। जब वे कार से उतरे तो पुलिसकर्मी ने उन्हें गोली मार दी। इससे तुरंत अफरातफरी का माहौल हो गया। घटना का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर आ गया है, जिसमें देखा गया कि आरोपी कांस्टेबल गोली मारने के बाद ध्रुव को कार में डालने की कोशिश कर रहा है। जब वह ऐसा नहीं कर पाया तो उसे वहीं छोड़कर चला गया।

अभद्र शब्दों का इस्तेमाल
एक रिपोर्ट के अनुसार, प्रत्यक्षदर्शियों ने पुलिसकर्मी को रीतू और ध्रुव के लिए अभद्र शब्दों का इस्तेमाल करते देखा। उसने जज की पत्नी की छाती में और बेटे के सिर में गोली मारी। इस संबंध में पुलिस कमिश्नर केके राव ने बताया कि घटना के कारण का पता लगाया जा रहा है।

उपजे कई सवाल
जज के परिजनों पर उनके ही सुरक्षाकर्मी द्वारा किया गया हमला कई सवाल खड़े करता है। इसकी असल वजह तो जांच के बाद ही सामने आ पाएगी लेकिन ऐसी घटनाओं से पुलिस की छवि को नुकसान पहुंचता है। पिछले दिनों लखनऊ का विवेक तिवारी हत्याकांड काफी चर्चा में रहा, जिसमें पुलिसकर्मियों पर ही गोली मारकर हत्या करने का आरोप लगा था।

ये भी पढ़िए:
– प्रधानमंत्री मोदी को जान से मारने की धमकी, दिल्ली पुलिस कमिश्नर को मिला ईमेल
– फिर मंडराया हैकिंग का खतरा, अब फेसबुक के 2.90 करोड़ यूजर्स का डेटा चोरी
– थरूर की अंग्रेजी पर भारी मोदी की संस्कृत! सोशल मीडिया पर छिड़ी जोरदार बहस
– सर्वे: 67 प्रतिशत लोगों ने माना, मोदी के राज में सही दिशा में जा रहा है भारत

LEAVE A REPLY