अखिलेश पर आरोप लगाया गया कि उन्होंने सरकारी बंगले को छोड़ने से पूर्व उसे नुकसान पहुंचाया है। उन आरोपों पर अखिलेश ने कहा था कि यह उन्हें बदनाम करने की साजिश है, क्योंकि उन्होंने ऐसा कुछ नहीं किया था।

लखनऊ। पिछले दिनों उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा खाली किए गए सरकारी बंगले की तस्वीरें सोशल मीडिया में काफी वायरल हुई थीं। इसके बाद अखिलेश पर यह आरोप लगाया गया कि उन्होंने सरकारी बंगला खाली करते वक्त उसमें तोड़फोड़ की, उसे खासा नुकसान पहुंचाया। अब खबर है कि योगी सरकार अखिलेश को बंगले की तोड़फोड़ के आरोप में नोटिस भेज सकती है। पीडब्‍ल्‍यूडी ने वह बंगला खाली होने के बाद उसकी जांच की और पाया कि उसमें करीब 10 लाख रुपए का नुकसान किया गया है।

इस नुकसान के लिए योगी सरकार अखिलेश यादव को नोटिस भेजकर नुकसान की भरपाई के लिए कह सकती है। उल्लेखनीय है कि उच्चतम न्यायालय के आदेश के बाद उत्तर प्रदेश के सभी पूर्व मुख्यमंत्रियों को अपने सरकारी बंगले खाली करने पड़े थे। उस समय अखिलेश यादव ने भी बंगला खाली किया। उनके द्वारा बंगला खाली करने के बाद सोशल मीडिया पर बंगले के हालात की तस्वीरें जबर्दस्त चर्चा में रहीं।

अखिलेश पर आरोप लगाया गया कि उन्होंने सरकारी बंगले को छोड़ने से पूर्व उसे नुकसान पहुंचाया है। उन आरोपों पर अखिलेश ने कहा था कि यह उन्हें बदनाम करने की साजिश है, क्योंकि उन्होंने ऐसा कुछ नहीं किया था। अखिलेश ने बताया था कि ​उन्होंने स्वयं के खर्चे पर बंगले में अपनी जरूरत के लिए जिम बनवाया था। इसके अलावा दूसरे कई सामान लगवाए। जब उन्होंने बंगला खाली किया तो वे लगाया हुआ सामान अपने साथ ले गए।

हालांकि तब सरकार ने मामले की जांच करवाई। अब पीडब्‍ल्‍यूडी ने अपनी रिपोर्ट राज संपत्ति विभाग के हवाले कर ​दी है। जानकारी के अनुसार, पीडब्‍ल्‍यूडी ने बंगले को करीब 10 लाख रुपए का नुकसान होना पाया है। इसकी वसूली के लिए योगी सरकार अखिलेश यादव को नोटिस भेज सकती है। बंगले की जो तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुईं, उनमें दावा किया गया था कि टाइलें उखाड़ी गई थीं। इसके अलावा बिजली के स्विच और पानी के नल को नुकसान होना बताया गया। हालांकि उन तस्वीरों पर भी कई सवाल उठते रहे और सपा समर्थकों ने उन्हें फर्जी करार दिया था।

ये भी पढ़ें:
– 13 साल में ऐसे बदला ममता का नजरिया, तब घुसपैठ को बताया आपदा, लोकसभा में फेंके कागज
– अब अमित शाह के प. बंगाल दौरे की तैयारी, बोले- ‘जरूर जाऊंगा, चाहें तो गिरफ्तार कर लें ममता’
– क्या मुलायम के खास रहे अमर सिंह आज़मगढ़ से लड़ेंगे उनके खिलाफ चुनाव?

LEAVE A REPLY