बेंगलूरु/दक्षिण भारतस्थानीय ओकलीपुरम स्थित माहेश्वरी भवन में माहेश्वरी सभा द्वारा वनबंधु परिषद के राष्ट्रीय संरक्षक पद्मश्री रामेश्वरलाल काबरा का सम्मान किया गया। इस अवसर पर काबरा ने अपने उद्बोधन में कहा कि किसी भी व्यक्ति की सफलता में उसकी विनम्रता, वाणी में मधुरता, सकारात्मक सोच, समयबद्धता एवं अनुशासन की अहम् भूमिका रहती है। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति इन चीजों का पालन कर ेलेता है उस व्यक्ति की परिवार, समाज, राष्ट्र व विश्व में अलग पहचान बन जाती है। काबरा ने इस अवसर पर एकल अभियान की विस्तृत जानकारी भी दी। साथ ही आह्वान भी किया कि हमें गांवों में रहने वाले परिवारों का जीवन स्तर, शिक्षा, स्वास्थ्य एवं संस्कृति के माध्यम से सुधारने का प्रयास करना चाहिए, जो कि वनबंधु परिषद कर रही है। उन्होंने सभा के समस्त लोगों व उपस्थितजनांे से इस अभियान से जु़डने का आह्वान किया। कार्यक्रम में काबरा को सभा द्वारा एक विद्यालय के सहयोग के लिए पांच लाख रुपए तथा राजकुमार ल़ढ़्ढा द्वारा ग्यारह लाख रुपए की राशि के चैक प्रदान किए गए। सभा के सचिव निर्मलकुमार तापि़डया ने बताया कि इस अवसर पर वन बंधु परिषद के देवेंद्र सरावगी, रमेश अग्रवाला, कन्हैयालाल राठी, धीर के संपादक धीरेंद्र सिंघी, ‘दक्षिण भारत’’ के सम्पादक श्रीकांत पाराशर सहित ब़डी संख्या में लोग मौजूद थे।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY