बेंगलूरु। यहां कोरमंगला स्थित ’’अभिनन्दन’’ में आयोजित कार्यक्रम में साधुमार्गी जैन संघ द्वारा शहादा निवासी सुभाषचंद कोटि़डया की पुत्री मुमुक्षु निकिता कोटि़डया का बुधवार को सम्मान किया गया। संघ के अध्यक्ष कमल सिपानी ने मुमुक्षु की वैराग्य भावना की सराहना की। साथ ही कहा कि मुमुक्षु ने इस आधुनिक युग में सांसारिक सुखांे का त्याग करके आत्म कल्याण हेतु संयम के कठिन मार्ग पर ब़ढने का महान निर्णय लिया है। सिपानी ने कहा कि दीक्षार्थी निकिता सभी श्रावक-श्राविकाओं के लिए भी एक आदर्श है । संघ के उपाध्यक्ष मोहनलाल चोप़डा ने संयम को वीरांे का मार्ग बताया। मंत्री कुलदीप नंदावत ने युवा उम्र में त्याग के पथ पर आगे ब़ढने की सराहना की। इस अवसर पर महिला शाखा की पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष कुमुददेवी सिपानी, स्थानीय समता महिला संघ की अध्यक्ष ज्योति सांड, मंत्री सीमा सिपानी, कोषाध्यक्ष मधु बम्बकी व विमलादेवी सिपानी ने मुमुक्षु को माला पहनाकर, शॉल एवं चुंद़डी ओ़ढाकर सत्कार किया । इस अवसर पर अखिल भारतवर्षीय साधुमार्गी जैन संघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष उत्तमचंद कोठारी, समता युवा संघ के अध्यक्ष सुशील बरमेचा, बिमलचंद कांकरिया व महावीरचंद चौप़डा आदि अनेक लोग उपस्थित थे ।

LEAVE A REPLY