चेन्नई। यहां तिरुवत्तुर में तेरापंथ धर्मसंघ की साध्वीश्री काव्यलताजी ने बुधवार को कहा कि पुरुषार्थ से मिलता है धर्म, जिसमें मानव जीवन को अच्छे कर्म करने चाहिए। उन्होंने कहा कि धर्म का संबंध जाति से नहीं होता है, बल्कि अपने जीवन से होता है। धर्म में कोई ऊंच और नीच नहीं होता धर्म सिर्फ धर्म होता है। साध्वीश्री ने कहा कि जब जीवनचर्या सत्य हो जाएगी तभी जीवन पुरुषार्थ से धर्म बन सकता है। साध्वीश्री से आशीर्वाद लेने के लिए इस अवसर पर राजस्थान के मारवा़ड जंक्शन के विधायक केसाराम चौधरी पहंुचे। उनके साथ भाजपा नेता सुरेशचंद्र मरलेचा, नारायण सेवा संस्थान चेन्नई के अध्यक्ष केशरसिंह राजपुरोहित, कालूराम, दुर्गाराम सीरवी, दिनेश, सुभाष जैन भी मौजूद थे। साध्वीश्री ज्योतियशाजी, सुरभिप्रभाजी व वैभवयशाजी ने विचार रखे।

LEAVE A REPLY