बेंगलरु/दक्षिण भारत शहर में मानव सेवा के क्षेत्र में बीते १८ वर्षों से संचालित विभिन्न रचनात्मक एवं सांस्कृतिक गतिविधियों में अग्रणी संस्था ‘राजस्थान संघ कर्नाटक’’ की जरुरतमंदों को बेहद रियायती दर पर वस्त्रों के वितरण की योजना ‘वस्त्र नीति भण्डार’’ का शुभारंभ रविवार को प्रातः ११ बजे होगा। यहां मैजेस्टिक बस स्टेण्ड के समीप, टैंक बंड रो़ड पर होटल मयूरा के सामने दो कियोस्क के माध्यम से भंडार का संचालन होगा। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष एवं विधायक दिनेश गुण्डूराव को आमंत्रित किया गया है। वहीं विशिष्ट अतिथियों के रुप में भंडार के पहले वर्ष के लाभार्थी अशोक महेंद्र कुमार रांका व राजेंद्र त्रिलोक बोथरा परिवारों के सदस्य शिरकत करेंगे। इसी क्रम में संघ की विविध गतिविधियों व भंडार के माध्यम से दिये जाने वाले वस्त्रों से संबन्धित विस्तृत जानकारी के लिए शुक्रवार दोपहर यहां प्रेस क्लब में संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस अवसर पर संघ के चेयरमैन रमेश मेहता, अध्यक्ष अनिल संकलेचा, सचिव रतनीबाई मेहता, कोषाध्यक्ष पदम भूरट, नीति वस्त्र भंडार योजना के चेयरमैन कैलाश संकलेचा, को-चेयरमैन डॉ.रवीन्द्र जैन व महेंद्र सोलंकी ने संयुक्त रुप से बताया कि शहर ही नहीं, प्रदेश में अपने आप में यह अनूठा भंडार शुरु हो रहा है जो जरुरतमंदों को घर-घर से एकत्रित किए गए पुराने वस्त्रों को रिसाइकिल कर बेहद रियायती दर पर वितरित करेगा। रमेश मेहता ने बताया कि प्रतिदिन प्रातः १० बजे से शाम ५ बजे तक दो अलग-अलग कियोस्क (पुरुष व महिला) के माध्यम से यह कार्य सुचारु रुप से होगा। कार्यक्रम में शहर के विभिन्न मंडलों के पदाधिकारियों-सदस्यों सहित उदारमना दानदाताओं को भी आमंत्रित किया गया है। मेहता ने राजस्थान संघ द्वारा शहर के विभिन्न क्षेत्रों मंे संचालित जरुरतमंदों के लिए निशुल्क मोक्षवाहिनी सेवा, एम्बुलेंस सेवा व अनेक स्कूलों में पाठ्य सामग्री के वितरण सहित किए जा रहे विविध क्रियाकलापों की भी जानकारी पत्रकारों को दी। योजना के चेयरमैन कैलाश संकलेचा ने बताया कि संघ की सचिव रतनीबाई मेहता के सहयोग से व शहर के विभिन्न मंडलों की महिला सदस्याओं के माध्यम से घर-घर जाकर लोगों से अनचाहे कप़डों का कलेक्शन किया जा रहा है। भंडार ने इन वस्त्रों को संग्रहित कर रिसाइकिल यानी लांड्री से धुलवाकर प्रेस (इस्तरी) करवाकर विभिन्न साइजों के अनुसार विधिवत् पैकिंग किये हैं।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY