दक्षिण भारत न्यूज नेटवर्कबेंगलूरु। यहां चिकपेट स्थित आदिनाथ जैन श्वेतांबर मंदिर के तत्वावधान में रविवार को विजयलब्धि जैन धार्मिक पाठशाला में स्नात्र महोत्सव के अंतर्गत अभ्यासक्रम पुस्तक का विमोचन कार्यक्रम हुआ। लाभार्थी सुआबाई लालचंद भंडारी परिवार सायलावालों के सौजन्य से प्रकाशित इस पुस्तक का विमोचन धीरजकुमार भण्डारी, विजयकुमार भण्डारी, सुआबाई व मंगलीदेवी के करकमलों से हुआ। पुस्तक के संपादक प्राध्यापक सुरेन्द्र सी शाह गुरुजी ने बताया कि इस पुस्तक में ४ वर्ग का समावेश किया गया है। उन्होंने बताया कि सचित्र नवकार से पंच प्रतिक्रमण सूत्र एवं काव्य आदि के सुंदर प्रकाशन से यह पुस्तक उपयोगी साबित होगी। इस अवसर पर पाठशाला के चेयरमैन देवकुमार जैन ने कहा कि इस धार्मिक उपयोगी पुस्तक का विद्यार्थियों को आत्मसात करना चाहिए। उन्होंने कहा कि विनय और अनुशासन से हमारे शास्त्र भरे प़डे हैं, जो कि जीवन के शाश्वत मूल्य है। जैन ने कहा कि यदि विद्यार्थी चाहता है कि उसके अतीत से वर्तमान बेहतर हो और वर्तमान से भविष्य बेहतर हो तो धार्मिक पुस्तकों का अध्ययन करने से ही नई दिशा मिल सकती है। कार्यक्रम में लाभार्थी परिवार के सदस्यों का सम्मान किया गया।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY