होसपेटे। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी शनिवार को अपने चार दिवसीय कर्नाटक दौरे की शुरुआत की और कर्नाटक चुनाव का प्रचार अभियान शुरू किया। यहां उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा, जो आपको झूठे वादे करते हैं, झूठे सपने दिखाते हैं, उन पर भरोसा करके कोई फायदा नहीं मिलने वाला। कांग्रेस पार्टी जो कहती है वही करती है। नरेंद्र मोदी जी के शब्द खोखले हैं, वे जो कहते हैं वह करते नहीं हैं। उन्होंने कहा कि मोदी से जब रोजगार और किसानों की दयनीय हालत के बारे में सवाल किया जाता है तब वे कांग्रेस का बहाना लेते हैं। उन्होंने कहा कि मैं प्रधानमंत्री को बताना चाहूंगा कि देश ने आपको बहाने बनाने के लिए नहीं चुना है बल्कि आगे की ओर देखिए और काम कीजिए न कि कांग्रेस का नाम लेकर बहाना बनाएं। द्यय्ड्डर्ष्ठैंय ·र्ैंद्यय्द्य ख्रष्ठप्रय् द्बष्ठ्र द्नश्नलट्टय्घ्य्द्य ·र्ैंय् फ्द्धफ्ष्ठ द्धठ्ठणक्कय् द्बरुसय्राफेल ल़डाकू विमान करार के मुद्दे पर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर अपने हमले जारी रखते हुए राहुल गांधी ने कहा कि राफेल आज देश में भ्रष्टाचार का सबसे ब़डा मुद्दा है। राहुल ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी फ्रांस यात्रा के दौरान व्यक्तिगत तौर पर अनुबंध में बदलाव कराया ताकि वह इसे अपने एक दोस्त को दे सकें। उन्होंने कहा कि मोदी ने करार के बाबत उनके तीन सवालों के जवाब अब तक नहीं दिए हैं। राज्य में सत्ताधारी कांग्रेस की जन आशीर्वाद यात्रा की शुरुआत करते हुए राहुल ने कहा, आज राफेल विमान (करार) देश में भ्रष्टाचार का सबसे ब़डा मुद्दा है। मैं आपको इस बारे में कुछ चीजें बताना चाहता हूं। मोदीजी फ्रांस के पेरिस गए थे। फ्रांस में उन्होंने व्यक्तिगत तौर पर अनुबंध बदलवाया। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि पहले राफेल का अनुबंध बेंगलूरु स्थित सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी हिंदुस्तान एरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को दिया गया था, जो पिछले ७० साल से भारतीय वायुसेना के लिए विमान बना रही है। उन्होंने कहा, आज बेंगलूरु यदि अपने पांव पर ख़डा है तो इसकी एक वजह एचएएल भी है। मोदीजी ने बेंगलूर और एचएएल से राफेल का अनुबंध लेकर अपने दोस्त को दे दिया। राहुल ने कहा, हमने मोदी से तीन सवाल पूछे हैं – मोदीजी, आपने किस आधार पर एचएएल से अनुबंध लेकर अपने दोस्त को दे दिया और किस कारण से ऐसा किया? आपने बेंगलूरु से उसके युवाओं का भविष्य क्यों छीन लिया? अपने दोस्त को फायदा पहुंचाने के लिए आपने ऐसा क्यों किया? उन्होंने कहा, दूसरा सवाल – आपके नए अनुबंध में विमान की कीमत ब़ढी या घटी? तीसरा सवाल – जब आपने पेरिस में यह फैसला किया और तब भारत के रक्षा मंत्री गोवा में मछली खरीद रहे थे, तो क्या आपने कैबिनेट की सुरक्षा समिति (सीसीएस) से इजाजत ली थी? हां या नहीं। राहुल ने कहा कि मोदी ने राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव के दौरान अपने संबोधन में एक घंटे तक भाषण दिया, लेकिन राफेल पर कुछ नहीं बोला।द्भष्ठरर्‍द्भरुद्य्रझ्य् द्मष्ठ द्धद्मय्द्भय् त्र्य् द्नश्नलट्टय्घ्य्द्य ·र्ैंय् प्त्ठ्ठश्च ्यद्य·र्ैंय्स्रठ्ठश्चराज्य में बी एस येड्डीयुरप्पा के शासनकाल का हवाला देते हुए राहुल ने आरोप लगाते हुए कहा, प्रधानमंत्री भ्रष्टाचार की बातें करते हैं। कर्नाटक में उनकी पार्टी की सरकार ने भ्रष्टाचार के रिकॉर्ड तो़ड दिए थे। भाजपा ने येड्डीयुरप्पा को अपना मुख्यमंत्री उम्मीदवार बनाया है जबकि भ्रष्टाचार के आरोप में येड्डीयुरप्पा को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना प़डा था।द्बह्ख्रर्‍ द्मष्ठ ्यज्त्रद्मय् द्मस्द्मह् ·र्ैंह् ्यख्रद्भय् र्त्रद्मष्ठ द्बष्ठ्र ·र्ैंय्ैंख्श्नष्ठफ् द्मष्ठ द्बद्मद्यष्ठख्य् प्रय्रुर्ङैं ्य·र्ैंद्भय्नरेन्द्र मोदी को गरीब विरोधी और कॉरपोरेट का हितैषी बताते हुए राहुल ने कहा कि कुछ वर्ष पूर्व मोदी जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे तब उन्हांेने टाटा को नैनो कार बनाने के लिए फैक्ट्री लगाने हेतु ३३००० करो़ड रुपए दिया था जबकि मोदी जब प्रधानमंत्री बने तब उन्होंने एससी-एसटी के कल्याण के लिए मात्र ५५ हजार करो़ड रुपए दिए। राहुल ने कहा कि जितनी राशि टाटा नैनों के लिए मोदी ने दी उतनी में यूपीए सरकार ने मनरेगा योजना शुरु कर दी थी जिससे लाखों गरीबों का भला हुआ। उन्होंने कहा कि यह कितना ब़डा दुर्भाग्य है कि जिस नैनो को मोदी ने गुजरात में हजारों करो़ड की छूट दी उस कंपनी में आज एक भी कार नहीं बन रही है।

LEAVE A REPLY