ramdhun in uno
ramdhun in uno

संयुक्त राष्ट्र। सत्य, शांति और सहिष्णुता का संदेश देने वाली रामधुन आपने भारत में तो कई बार सुनी होगी। अब यह संयुक्त राष्ट्र में भी गूंज रही है। बुधवार को संयुक्त राष्ट्र की 73वीं वर्षगांठ पर जब रामधुन गूंजी तो यह दृश्य ऐतिहासिक बन गया। इसके लिए भारत के प्रसिद्ध सरोद वादक उस्ताद अमजद अली खान, उनके बेटे अमान अली बंगश और अयान अली बंगश यहां पहुंचे और विशेष प्रस्तुति दी।

अपने संबोधन में संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंतोनियो गुटेरेस ने महात्मा गांधी को याद किया। उन्होंने बापू के अहिंसा संबंधी सिद्धांतों का उल्लेख किया और उन्हें विश्व का महान नेता बताया। उन्होंने अपने संबोधन में दिल्ली यात्रा की बातें भी साझा कीं। उस यात्रा के दौरान एंतोनियो गुटेरेस राजघाट स्थित महात्मा गांधी की समाधि पर भी गए थे।

उन्होंने कहा कि आज की प्रस्तुति गांधी की विरासत को सच्ची श्रद्धांजलि है। बता दें कि यह थीम ‘शांति और अहिंसा की परंपरा’ है। इसके चयन में भारत की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। इसमें महात्मा गांधी के आदर्शों की झलक मिलती है।

इस संबंध में संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो पोस्ट किया है। इसमें उस्ताद अमजद अली खान और उनके बेटे रामधुन की प्रस्तुति देते दिख रहे हैं। इसके बाद काफी लोगों ने प्रतिक्रियाएं देकर इसे महान घटना बताया है। एक यूजर ने लिखा है कि भारत की सरजमीं से पैदा हुई सत्य और शांति की धुन संयुक्त राष्ट्र में गूंज उठी है। एक अन्य यूजर ने इसे अद्भुत दृश्य कहा है।

ये भी पढ़िए:
– दुबई में रहने वाले भारतीय की खुली किस्मत, लगी 7 करोड़ की लॉटरी
– देर रात डोवाल ने संभाला मोर्चा, एक आदेश से हो गई वर्मा और अस्थाना की छुट्टी
– पेटीएम मामला: फिरौती के लिए दबाव बढ़ा रही थी सेक्रेटरी, सालाना तनख्वाह 70 लाख!
– बैंक एप के नाम पर हो रहा बड़ा फर्जीवाड़ा, चुटकियों में खाली हो सकता है खाता

LEAVE A REPLY