बादामी/भाषाभाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार को बादामी में एक विशाल रोड शो किया। मुख्यमंत्री सिद्दरामैया चामुंडेश्वरी सीट के अलावा इस क्षेत्र से भी विधानसभा चुनाव ल़ड रहे हैं। उत्तर कर्नाटक के बादामी शहर में शाह ने पार्टी के लिए आखिरी जोर लगा दिया। भाजपा इस दक्षिणी राज्य में सत्ता में वापसी करना चाहती है। दक्षिण भारत में यही एक मात्र राज्य है, जिसमें भाजपा पूर्व में शासन में रही थी।रोड शो के दौरान पार्टी के हजारों कार्यकर्ता भगवा रंग की टोपी पहने हुए थे। वे ढोल-नगा़डों की आवाज के साथ नृत्य कर रहे थे। वे लोग भाजपा को सत्ता में लाने और सिद्दरामैया को हराने के नारे लगा रहे थे। शाह की रैली के दौरान पार्टी कार्यकर्ता स़डकों पर उम़ड प़डे जिससे दो घंटे से अधिक समय तक समूचा बादामी शहर में यातायात रूक गया। गर्मी की परवाह नहीं करते हुए पार्टी के कार्यकर्ताओं ने रैली के मार्ग पर पूरे उत्साह से मार्च किया। एक बस पर ढेर सारे गेंदे के फूल लगाए गए थे, जिससे वह एक भगवा रथ की तरह दिख रही थी। इस पर शाह, भाजपा के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बीएस येड्डीयुरप्पा और बादामी से पार्टी के उम्मीदवार बी श्रीरामुलू सवार थे। राज्य में १२ मई को होने वाले मतदान से ठीक पहले शाह ने बादामी में मतदाताओं को लुभाने की आखिरी कोशिश की। यह सीट भाजपा और कांग्रेस, दोनों के लिए महत्वपूर्ण है। यह कयास लगाया जा रहा है कि चामुंडेश्वरी में जातीय जो़ड घटाव ने सिद्दरामैया को उत्तर कर्नाटक में यह सुरक्षित सीट चुनने के लिए मजबूर किया। सिद्दरामैया चामुंडेश्वरी सीट पर जीटी देवगौ़डा के खिलाफ चुनाव ल़ड रहे हैं। इस इलाके में वोक्कालिगा समुदाय का वर्चस्व है। वहीं, बादामी में सिद्दरामैया को क़डी चुनौती देने के लिए भाजपा ने इस शहर के अनुसूचित जनजाति के नेता श्रीरामुलू को अपना उम्मीदवार बनाया है।

LEAVE A REPLY