funeral through technology
funeral through technology

अहमदाबाद। सूचना क्रांति के इस युग में हर चीज टेक्नोलॉजी पर निर्भर हो गई है। बिना टेक्नोलॉजी के हम अपने भविष्य की कल्पना नहीं कर सकते हैं। अब तो लोग वीडियो कॉलिंग के जरिए अंतिम संस्कार तक कराने लगे हैं। ऐसा ही एक मामला महाराष्ट्र के पालघर से सामने आया है, जहां एक लड़की ने अपनी मां का अंतिम संस्कार वीडियो कॉलिंग से कराया गया।

यही नहीं इस लड़की ने अस्थियों को लाने लिए कोरियर सेवा का प्रयोग किया। खबरों के मुताबिक, 70 साल के धीरज पटेल पालघर के मनोर में अपनी पत्नी के निरीबाई पटेल से साथ अकेले रहा करते थे। उन्होंने अपनी इकलौती बेटी की शादी कर दी। अब उनकी बेटी गुजरात के अहमदाबाद में रहती हैं।

बीते मंगलवार यानी 21 अगस्त को निरीबाई का निधन हो गया। उस वक्त धीरज पटेल घर में नहीं थे। शायद वो किसी काम से बाहर गए थे। बुजुर्ग महिला के गुजर जाने की सूचना गांव वालों ने उनकी बेटी को फोन करके दे दी।

बेटी ने फोन पर गांव पहुंचने में असमर्थता जताई और कहा कि वे लोग उसकी मां अंतिम संस्कार कर दें, वह वीडियो कॉल के जरिये अंतिम संस्कार में मौजूद रहेगी। गांव वालों ने बेटी के आग्रह पर मनोर स्थित हिंदू श्मशान भूमि पर उसकी मां अंतिम संस्कार कर दिया।

इस दौरान उनकी बेटी को वीडियो कॉलिंग से पूरी अंतिम क्रिया दिखाई। बता दें कि दाह संस्कार को वैदिक ज्ञान के निर्देशानुसार संपन्न कराया जाता है। माना जाता है कि हिंदुओं में वैदिक रीति के अनुसार अंतिम संस्कार कराने से मृतक की आत्मा को शांति मिलती है। मौजूद परिदृश्य में अंतिम संस्कार को लेकर भी कई तरह के परिवर्तन दिखाई देते हैं।

ये भी पढ़िए:
– छलका मुलायम का दर्द- ‘अब हमारा कोई सम्मान नहीं करता, शायद मरने के बाद ही करें’
– बिहार की बेटी ने बनाई अनोखी मशीन, शराब पीकर चलाई गाड़ी तो हो जाएगी बंद
– मुस्लिम महिला ने मोदी-योगी की पेंटिंग बनाई तो आगबबूला हुआ पति, घर से निकाला
– क्या फेसबुक बढ़ा रहा है आपके जीवन में तनाव? यह निष्कर्ष हैरान कर देगा

LEAVE A REPLY