वॉशिंगटन/भाषाभारतीय मूल की अमेरिकी सांसद प्रमिला जयपाल के नेतृत्व में रिपब्लिकन एवं डेमोक्रेटिक पार्टी के १३० सांसदों ने ट्रंप प्रशासन से अनुरोध किया कि वह एच १ बी वीजाधारक अप्रवासी कर्मचारियों के जीवनसाथी के लिए कार्य परमिट (कार्य करने की अनुमति) देना जारी रखें। ऐसा उन मामलों में करने के लिए कहा गया है जिनमें अप्रवासी कर्मचारियों पर उनके जीवनसाथी निर्भर हैं। ओबामा प्रशासन के दौरान एच १ बी वीजाधारकों के जीवनसाथी को कानूनी तौर पर अमेरिका में काम करने की अनुमति थी लेकिन ट्रंप प्रशासन इस नियम को खत्म करने की तैयारी कर रहा है। इस फैसले से कार्य परमिट प्राप्त ७०,००० एच -४ वीजाधारक बुरी तरह प्रभावित होंगे। एच १ बी वीजाधारक के जीवनसाथी को एच -४ वीजा जारी किया जाता है, इनमें अधिकांश महिलाएं शामिल हैं। ये भारत के कुशल और पेशेवर लोग होते हैं। अमेरिकी सांसदों का गृह सुरक्षा मंत्री क्रिस्टेन नीलसन को लिखा यह पत्र ट्रंप प्रशासन द्वारा कार्य परमिट रद्द करने की तैयारी के बीच आया। सांसदों ने पत्र में कहा, एच -४ वीजाधारकों को काम करने की अनुमति ने हमारी अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाया है। साथ ही यह वीजा कई वर्षों से अमेरिका में रह रहे लोगों को राहत एवं आर्थिक सहयोग प्रदान करता है। पत्र के मुताबिक, हम आपसे एच १ बी वीजाधारकों के उन पर आश्रित जीवनसाथियों को कार्य परमिट देने वाले वर्तमान नियमों को जारी रखने का आग्रह करते हैं।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY