वाशिंगटन। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने एक साक्षात्कार में कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में अगर किसी रूसी नागरिक ने दखल किया तो इससे उनका कोई लेना देना नहीं है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि इस तरह के प्रयासों को क्रेमलिन से जो़डकर नहीं देखा जा सकता। गौरतलब है कि अमेरिका में वर्ष २०१६ में राष्ट्रपति चुनावों में रूसी हस्तक्षेप के आरोप लगे हैं और इनकी जांच हो रही है। पुतिन का यह साक्षात्कार कल एनबीसी टेलीविजन पर प्रसारित हुआ था। उन्होंने कहा, आखिर आपने यह कैसे तय कर लिया कि मैंने और किसी रूसी अधिकारी ने इसे करने की इजाजत दी होगी। स्पेशल काउंसिल रॉबर्ट मुलर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के चुनाव प्रचार अभियान में रुसी साठगांठ के आरोपों की व्यापक जांच कर रहे हैं। आरोप है कि ट्रंप को राष्ट्रपति बनाने में रूस की मदद ली गयी थी।पिछले महीने मुलर ने १३ रूसी नागरिकों और तीन रूसी कंपनियों पर आरोप लगाया था कि उन्होंने ट्रंप के चुनाव प्रचार अभियान का कथित रूप से समर्थनकिया, उनकी डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी हिलेरी क्लिंटन की छवि धूमिल की और चुनावी प्रक्रिया में दखल दिया था। इन आरोपों पर पुतिन ने कहा, अगर वे रूसी नागरिक हैं तो इससे क्या हुआ? पुतिन ने कहा, १४.६ करो़ड रूसी नागरिक हैं। तो क्या हुआ? मुझे कोई परवाह नहीं। मेरा इससे क्या लेना देना हो सकता है, वे तो रूसी राज्य के हितों का प्रतिनिधित्व भी नहीं करते। उन्होंने कहा, क्या हमने अमेरिका पर प्रतिबंध लगाया है? लेकिन अमेरिका ने तो हम पर प्रतिबंध लगाया।

LEAVE A REPLY