जावेद राणा ने देश की अखंडता पर ऐसा विवादास्पद बयान पहली बार नहीं दिया है। इससे पहले वे एक कार्यक्रम में सुरक्षाबलों के लिए अपशब्द इस्तेमाल कर चुके हैं। इस पर कड़ा ऐतराज भी जताया गया, लेकिन राणा ने कोई सबक नहीं लिया।

श्रीनगर। कश्मीर में हमारे सुरक्षाबल देश की अखंडता की रक्षा के लिए अपनी जान की बाजी लगा रहे हैं, वहीं कुछ लोग अपने बेकाबू बोल से बाज नहीं आ रहे। नेशनल कॉन्फ्रेंस के विधायक जावेद राणा ने तिरंगे पर विवादास्पद बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि अगर जम्मू-कश्मीर में धारा 35-ए में कोई परिवर्तन किया या अनुच्छेद 370 को हटाने का प्रयास किया गया तो कश्मीर में तिरंगा दिखाई नहीं देगा। राणा ने एक सभा को संबोधित करते हुए यह बयान दिया। उनके बयान के बाद मौजूद लोगों ने तालियां बजाईं।

राणा इससे पहले भी कई बार विवादास्पद बयान दे चुके हैं। जानकारी के अनुसार, वे मंगलवार को अपने विधानसभा क्षेत्र में थे। इस दौरान उन्होंने एक सभा को संबोधित किया। उन्होंने धमकी भरे अंदाज में कहा कि 35-ए में किसी किस्म का बदलाव और अनुच्छेद 370 को खत्म करने की कोशिश हुई तो हिंदुस्तान के झंडे का नामोनिशान तक नहीं रहेगा।

जावेद राणा ने देश की अखंडता पर ऐसा विवादास्पद बयान पहली बार नहीं दिया है। इससे पहले वे एक कार्यक्रम में सुरक्षाबलों के लिए अपशब्द इस्तेमाल कर चुके हैं। इस पर कड़ा ऐतराज भी जताया गया, लेकिन राणा ने कोई सबक नहीं लिया। अब उन्होंने तिरंगे के अस्तित्व को ही चुनौती दे दी। वहीं सोशल मीडिया पर काफी तादाद में लोगों ने राणा के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

गौरतलब है कि अभी जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन लगा हुआ है। हाल के दिनों में कश्मीर से पत्थरबाजी जैसी घटनाओं की खबरें आनी बहुत कम हो गई हैं। हमारे सुरक्षाबल आतंकियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई को अंजाम दे रहे हैं।

जरूर पढ़ें:
– क्या नागरिक रजिस्टर पर ममता के ‘गृहयुद्ध’ वाले बयान से कांग्रेस को हो सकता है नुकसान?
– 10 रुपए का सिक्का न लेना दुकानदार को पड़ा महंगा, न्यायालय ने सुनाई सजा
– ‘जख्मी जूतों के डॉक्टर’ नरसीराम के मुरीद हुए महिंद्रा, अब देंगे यह शानदार तोहफा
– ऐसे जानिए, अगर भारत ने घुसपैठियों को न निकाला तो भविष्य में कैसे होंगे हालात

LEAVE A REPLY