इंदौर/वार्ताब़डे स्कोर वाले रोमांचक आईपीएल मुकाबले में शनिवार को यहां होल्कर स्टेडियम में कोलकाता नाइटराइडर्स ने किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ ३१ रन से महत्वपूर्ण जीत अपने नाम करते हु< प्लेऑफ की हो़ड को रोमांचक बना दिया। केकेआर ने पहले बल्लेबा़जी करते हुए आईपीएल-११ का सर्वाधिक स्कोर ख़डा किया और निर्धारित २० ओवर में छह विकेट पर २४५ रन बनाये। इसके जवाब में पंजाब की टीम ने भी काफी संघर्ष किया लेकिन २० ओवर में आठ विकेट पर २१४ रन ही बना सकी। पंजाब की टीम तालिका में फिलहाल ११ मैचों में १२ अंकों के साथ तीसरे पायदान पर बनी हुई है जबकि इस जीत से केकेआर की टीम तालिका में मुंबई इंडियन्स को पीछे छो़ड १२ मैचों में १२ अंक लेकर चौथे पायदान पर आ गयी है।होल्कर स्टेडियम में ते़ज धूप और गर्म तापमान में खेले गये इस मैच में दोनों टीमों ने ही कमाल की बल्लेबाजी की।केकेआर से मिले ब़डे लक्ष्य के सामने पंजाब ने भी काफी अच्छी शुरूआत की और ओपनर लोकेश राहुल ने अपनी बेहतरीन फार्म को जारी रखते हुये २९ गेंदों में दो चौकों और सात छक्कों की मदद से ६६ रन की ब़डी पारी खेली। अहम मौके पर आक्रामक कैरेबियाई बल्लेबा़ज क्रिस गेल इस बार सिर्फ २१ रन बनाकर सस्ते में आउट हो गये। लेकिन कप्तान अश्विन ने सातवें नंबर पर ४५ रन की रोमांचक पारी खेली। अश्विन ने चार चौके और तीन छक्के उ़डाए। हालांकि टीम निर्धारित ओवरों में २१४ रन ही बना सकी। कोलकाता के लिए आंद्रे रसेल ने ४१ रन पर सर्वाधिक तीन विकेट निकाले। प्रसिद्ध कृष्णा को ३१ रन पर दो विकेट मिले जबकि अर्धशतक लगाने वाले अबूझ स्पिनर सुनील नारायण, जेवोन सियर्स और कुलदीप यादव ने पंजाब का एक एक विकेट निकाला। इससे पहले पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन को टॉस जीतने के बाद पहले गेंदबा़जी करने का निर्णय खासा भारी प़डा और विपक्षी कोलकाता ने निर्धारित २० ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर २४५ रन का विशाल स्कोर ख़डा कर दिया जो वर्ष २०१८ में अभी तक किसी भी टीम का सर्वाधिक स्कोर है जबकि आईपीएल टूर्नामेंट के इतिहास में चौथा सर्वाधिक स्कोर है। मुंबई के खिलाफ पिछले मैच में १०२ रन के ब़डे अंतर से हारी कोलकाता ने सुनील नारायण की ३६ गेंदों में नौ चौकों और चार छक्कों से सजी ७५ रन और कप्तान दिनेश कार्तिक की २३ गेंदों में पांच चौकों और तीन छक्कों की धुआंधार पारी की बदौलत टीम को पहा़डनुमा स्कोर तक पहुंचा दिया। कोलकाता के ओपनर क्रिस लिन (२७) और कैरेबियाई खिला़डी सुनील (७५) ने पहले विकेट के लिए ५३ रन जो़डे। पंजाब के लिये एंड्रयू टाई ने लिन को बोल्ड कर पहला विकेट निकाला। टूर्नामेंट के १२वें मैच में सुनील ने अपना दूसरा अर्धशतक पूरा किया। दूसरे छोर पर रॉबिन उथप्पा ने २४ रन बनाये और सुनील के साथ दूसरे विकेट के लिये ७५ रन की अहम साझेदारी की। सुनील का दूसरा विकेट १२८ के स्कोर पर टाई ने लिया जिन्हें लोकेश राहुल ने लपका। केकेआर अपने स्कोर में एक ही रन का इजाफा कर सकी थी कि उथप्पा को भी टाई ने अपना शिकार बनाकर मैच में अपना तीसरा विकेट निकाल लिया। हालांकि आंद्रे रसेल और कप्तान कार्तिक ने फिर चौथे विकेट के लिये ताब़डतो़ड ७६ रन जो़ड डाले। रसेल ने अपनी १४ गेंदों की पारी में दो चौके और तीन छक्के उ़डाते हुये ३१ रन जो़डे जबकि कार्तिक ने अपना इस संस्करण में अपना पहला अर्धशतक पूरा किया। रसेल को टाई ने राहुल के हाथों कैच कराकर मैच में अपना चौथा विकेट निकाला। वहीं कार्तिक भी अपने ५० रन पूरे करने के बाद आउट हो गये। उन्हें बरिंदर शरण ने डेविड मिलर के हाथों बाउंड्री के पास कैच कराया। आखिरी ओवरों में नीतीश राणा ने चार गेंदों में एक चौका और एक छक्का लगाकर ११ रन जो़डे। उन्हें भी मिलर ने लपका जबकि शुभमन गिल ने आठ गेंदों में तीन चौके लगाकर नाबाद १६ रन बनाए। दूसरे छोर पर वेस्टइंडी़ज के जेवोन सियर्स ने आखिरी गेंद पर छक्का लगाकर पारी का शानदार समापन किया। पंजाब की तरफ से एंड्रूय टाई चार ओवर में ४१ रन पर चार विकेट लेकर सबसे सफल गेंदबा़ज रहे। मोहित शर्मा ने चार ओवर में ४० रन पर एक विकेट लिया जबकि बरिंदर ने तीन ओवर में ४८ रन लुटाकर महंगी गेंदबाजी की और एक विकेट लिया। कप्तान अश्विन भी महंगे साबित हुये जिन्होंने २.४ ओवर में ३६ रन लुटाए और कोई विकेट नहीं ले सके। वहीं पंजाब के लिए गेल ब़डी पारी नहीं खेल सके और १७ गेंदों में दो चौके और एक छक्का लगाकर २१ रन पर सस्ते में आउट हये।

LEAVE A REPLY