nuclear weapons pakistan
nuclear weapons pakistan

इस्लामाबाद। एक अंतरराष्ट्रीय एजेंसी ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया है कि आने वाले कुछ ही वर्षों में पाकिस्तान अपने परमाणु हथियारों में बहुत ज्यादा इजाफा कर लेगा। वह दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी परमाणु ताकत बन जाएगा। स्पष्ट है कि इससे उपजे हालात भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ाएंगे। भारत से नफरत की सनक में पाकिस्तान ने अपना पूरा ध्यान परमाणु हथियार विकसित करने में लगा रखा है।

कई शोध दावा कर चुके हैं कि पाकिस्तान के पास भारत से ज्यादा परमाणु हथियार हैं। इस लिहाज से वह दुनिया में छठे स्थान पर है। अगर पाकिस्तान ने अपना रवैया न बदला तो भविष्य में यहां हथियारों की होड़ और तेज हो सकती है। विभिन्न रिपोर्टों में कहा जा चुका है कि पाकिस्तान अपने परमाणु हथियारों में लगातार बढ़ोतरी कर रहा है। अभी उसके पास 140-150 परमाणु हथियार बताए जा रहे हैं।

अब फेडरेशन ऑफ अमेरिकन साइंटिस्ट्स (एफएएस) ने कई खुलासे किए हैं। यह एक अंतरराष्ट्रीय संस्था है जो परमाणु हथियारों पर रिपोर्ट प्रकाशित करती है। इसने कहा है कि 2025 तक पाकिस्तान परमाणु हथियारों की संख्या में अच्छा—खासा इजाफा कर लेगा। तब तक उसके पास 220-250 तक परमाणु हथियार हो जाएंगे। इससे वह परमाणु हथियारों के मामले में दुनिया में पांचवें स्थान पर आ जाएगा।

अपने अंदरूनी हालात को नजरअंदाज कर पाकिस्तान सिर्फ भारतविरोध की होड़ में लगा है। खराब आर्थिक स्थिति, ​बढ़ता आतंकवाद और गरीबी से उसकी अर्थव्यवस्था दम तोड़ रही है। उसकी जमीन पर कई आतंकी संगठन पनप रहे हैं। ऐसे में यह चिंता जाहिर की जाती रही है कि कहीं पाकिस्तान के परमाणु हथियार आतंकवादियों के हाथ न लग जाएं। अन्यथा वे पूरी दुनिया में तबाही मचा देंगे। उक्त रिपोर्ट में कहा गया है कि आगामी 10 वर्षों में पाकिस्तान के पास करीब 350 परमाणु हथियार हो जाएंगे। इस तरह वह तीसरी बड़ी परमाणु ताकत बन सकता है। निश्चित रूप से ऐसा होना शांति के लिए खतरा है।

ये भी पढ़िए:
– अब मोबाइल फोन से ट्रैक्टर बुक कर सकेंगे किसान, इस कंपनी ने लॉन्च किया एप
– मुंह की बदबू से हैं परेशान तो आजमाएं ये आसान नुस्खे, सांसों में आएगी ताजगी
– पीक से रंगी दीवारें देख कलेक्टर ने मंगवाया बाल्‍टी-कपड़ा और खुद करने लगे सफाई
– एशियाड में कांस्य विजेता दिव्या ने केजरीवाल से कहा- ‘पहले मदद देते तो गोल्ड जीतकर आती’

LEAVE A REPLY