गोल्ड कोस्ट/भाषाओलंपिक रजत पदक विजेता पीवी सिंधू और दुनिया के दूसरे नंबर के खिला़डी किदांबी श्रीकांत को कारारा स्पोर्ट्स एवं एंड लीजर सेंटर में १० अप्रैल से शुरू हो रही एकल बैडमिंटन स्पर्धाओं के लिए क्रमश: महिला और पुरुष वर्ग में शीर्ष वरीयता दी गई है। महिला एकल के ६४ खिलाि़डयों के ड्रा में सिंधू स्वर्ण पदक के अपने अभियान की शुरुआत दूसरे दौर में फाकलैंड आइलैंड की जोइ मौरिस के खिलाफ करेंगी। इन दोनों को अपने दौर के मैचों में बाई मिली है। वर्ष २०१० की चैंपियन और दुनिया की पूर्व नंबर एक खिला़डी साइना नेहवाल को दूसरी वरीयता दी गई है और वह दूसरे दौर में एल्सी डिविलियर्स से भि़डेंगी। भारत की रुतविका शिवानी गाडे को आठवीं वरीयता दी गई है और उनका मुकाबला दूसरे दौर में घाना की अतिपाका ग्रेस गहा और सेशेल्स की अह वान जुलिएट बीच होने वाले मैच की विजेता से होगा। रुतविका को भी पहले दौर में बाई मिली है। उन्हें क्वार्टर फाइनल में २०१४ ग्लास्गो खेलों की रजत पदक विजेता क्रिस्टी गिलमोर से भि़डना प़ड सकता है। पिछले सत्र में चार खिताब जीतने वाले श्रीकांत पुरुष एकल में अपने अभियान की शुरुआत फिजि के लियाम फोंग के खिलाफ करेंगे। उन्हें सेमीफाइनल में २०१० खेलों के रजत पदक विजेता राजीव ओसेफ से भि़डना प़ड सकता है। पिछले महीने आल इंग्लैंड चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में पहुंचे एचएस प्रणय को तीसरी वरीयता दी गई है और वह दूसरे दौर में मारिशस के पाल क्रिस्टोफर जीन और सेशेल्स के स्टीव मालकोजेन के बीच होने वाले मैच के विजेता से भि़डेंगे। उन्हें सेमीफाइनल में तीन बार के ओलंपिक रजत पदक विजेता ली चोंग वेई से भि़डना प़ड सकता है जिन्हें दूसरी वरीयता दी गई है। ली चोंग वेई ने २००६ मेलबर्न और २०१० नई दिल्ली खेलों में स्वर्ण पदक जीता था।पुरुष युगल में चिराग शेट्टी और सात्विकसाइराज रंकीरेड्डी की भारतीय जो़डी छुपा रुस्तम साबित हो सकती है। इंडोनेशिया मास्टर्स के सेमीफाइनल में पहुंची इस जो़डी को पहले दौर में बाई मिली है और दूसरे दौर में उनकी भि़डंत मारिशस के लुबाह आतिश और पाल सीजे तथा फाकलैंड आइलैंड के क्लार्क डगलस और एडोये टोबी के बीच होने वाले मुकाबले के विजेता के खिलाफ खेलना होगा।मिश्रित युगल में प्रणव जैरी चोप़डा और सिक्की रेड्डी को चौथी वरीयता दी गई है जबकि सात्विकसाइराज और अश्विनी पोनप्पा भी इस स्पर्धा में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। महिला युगल में सिक्की और अश्विनी को दूसरी वरीयता मिली है और इस जो़डी को पदक का दावेदार माना जा रहा है। अश्विनी इससे पहले ज्वाला गुट्टा के साथ मिलकर स्वर्ण और रजक पदक जीत चुकी हैं। बैडमिंटन स्पर्धा की शुरुआत कल मिश्रित टीम स्पर्धा के साथ होगी जिसमें मलेशिया, इंग्लैंड और भारत पदक के प्रबल दावेदार हैं।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY