बेंगलूरु। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ‘मन की बात’’ को चुनौती देने के लिए राज्य की कांग्रेस सरकार भी तैयारी में जुटी है जिसके लिए मुख्यमंत्री सिद्दरामैया ‘काम की बात’’ करेंगे। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार राज्य सरकार ने तय किया है कि वह साप्ताहिक कार्यक्रम के तहत ‘काम की बात’’ का प्रसारण करेगी जिसमें मुख्यमंत्री सिद्दरामैया का भाषण होगा। काम की बात का प्रसारण राज्य के सभी १९५ तालुकों में किया जाएगा जहां इसके लिए विशेष डिजिटल स्क्रीन लगाई जाएंगी। गौरतलब है कि राज्य में अगले वर्ष के आरंभ में विधानसभा चुनाव होने हैं। सरकार की उपलब्धियों का स्वघोषित खाका जनता तक पहुंचाने के लिए काम की बात का सहारा लेने की तैयारी में है। सरकार अपनी इस योजना के तहत १७ करो़ड रुपए में काम की बात करेगी। यह एक रिकॉर्डेड भाषण होगा जिसका प्रसारण हर सप्ताह किया जाएगा। भाषण में सिद्दरामैया अपनी सरकार के साढे चार वर्ष की उपलब्धियों और विशेष मुद्दों का बखान करेंगे। मुख्यमंत्री के भाषणों की रिकॉर्डिंग मुख्यमंत्री कार्यालय में हाल ही में स्थापित वरुणा स्टूडियो मंे होगा। इसके लिए सभी जिला प्रशासन को निर्देश जारी किया जाएगा कि वे तालुक मुख्यालयों में डिजिटल स्क्रीन स्थापित करें जिस पर काम की बात का प्रसारण होगा और जनता सीधे राज्य सरकार की उपलब्धियों से अवगत हो पाएगी। इसके अतिरिक्त राज्य में अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव को ध्यान मंे रखकर राज्य सरकार ने सभी जिलों में विकास मेला आयोजित करने का निर्णय लिया है। मेले के माध्यम से भी सरकार की उपलब्धियां जनता तक पहुंचाई जाएंगी ताकि जनता सरकार द्वारा शुरु की गई जन कल्याणकारी योजनाओं से अवगत हो सके और हर वर्ग को उसका लाभ मिल सके।

LEAVE A REPLY