lord ganesha
lord ganesha

मैसूरु/दक्षिण भारत। 13 सितम्बर को गणेश चतुर्थी का पर्व पूरे देश में मनाया जाएगा। विभिन्न सभा-संस्थाओं की ओर से गणेश स्थापना की जाएगी। वही शहर के केआरएस रोड स्थित आईमाता मंदिर के प्रांगण में गुरुवार शाम 4 बजे आईजी सेवा संघ की ओर से 11वें गणेश उत्सव के मौके पर प्रतिमा स्थापना की जाएगी। ट्रस्ट के सचिव रूपाराम राठौड़ ने बताया कि शनिवार शाम को सत्संग का आयोजन किया गया है जिसमें पारसमल सेन एंड पार्टी द्वारा भजनों की प्रस्तुतियां दी जाएंगी।

घांची समाज मैसूरु
कामतगिरि स्थित घांची समाज भवन में 15वां गणेश उत्सव मनाया जाएगा। समाज के अध्यक्ष तुलसाराम भाटी ने बताया कि गुुरुवार सुबह 11 बजे गणेश स्थापना की जाएगी और दोपहर 3 बजे महिलाओं द्वारा भजनों की प्रस्तुति तथा रात्रि में भजन संध्या होगी। दूसरे दिन सुबह 10 बजे से सभा का आयोजन व महाप्रसादी की व्यवस्था गीता भवन में रखी गई है।

राजस्थान विष्णु सेवा ट्रस्ट मैसूरु
इटगेगुड़ स्थित राजस्थान विष्णु सेवा ट्रस्ट की ओर से गुरुवार को 42वां गणेश उत्सव का आयोजन किया जा रहा है। ट्रस्ट के अध्यक्ष चंद्रसिंह राजपुरोहित की अध्यक्षता में सोमवार को सभा भवन में एक मीटिंग का आयोजन किया गया जिसमें गणेश उत्सव पर चर्चा हुई। दशहरा वस्तु प्रर्दशनी मैदान में गणेश स्थापना गुरुवार सुबह 10 बजे होगी। अध्यक्ष के स्वागत भाषण के साथ चढ़ावा लेने वाले लाभार्थियों का सम्मान किया जाएगा।

कर्नाटक सीरवी समाज मैसूरु
हल्दकेरी पर स्थित कर्नाटक सीरवी समाज के प्रांगण में कर्नाटक सीरवी समाज नवयुवक मंडल व सीरवी महिला मण्डल के सहयोग से 7वां गणेश उत्सव मनाया जाएगा। अध्यक्ष तुलसाराम सेपटा ने बताया कि गुरुवार को दोपहर 2 बजे से महिला एवं बच्चों द्वारा रंगारंग कार्यक्रमों की प्रस्तुतियों के बाद भजन संध्या का आयोजन किया गया है, जिसमें चंद्रप्रकाश सीरवी द्वारा भजनों की प्रस्तुति दी जाएगी।

ये भी पढ़िए:
– कौन हैं महाभारत के वीर बर्बरीक जिन्होंने कृष्ण को दिया था शीश का दान?
– यहां आज भी राधा संग आते हैं श्रीकृष्ण, जिसने भी देखना चाहा, वह हो गया पागल!
– इस गांव के रक्षक हैं शनिदेव, यहां नहीं लगाते घरों पर ताले
– चाहते हैं खुद का घर तो जरूर करें इन गणपति के दर्शन, वरदान से पूरे होंगे सब काम

LEAVE A REPLY