थेनी/चेन्नई। पिछले साल मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ध़डे के साथ अपने गुट का विलय करने वाले तमिलनाडु के उप मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सुझाव पर ऐसा किया। थेनी में शुक्रवार को पार्टी पदाधिकारियों की बैठक में अन्नाद्रमुक संयोजक ने कहा कि पिछले साल नयी दिल्ली में प्रधानमंत्री मोदी के साथ शिष्टाचार मुलाकात के दौरान यह मुद्दा उठा था। उप मुख्यमंत्री ने बिना यह विवरण दिये कि बातचीत कब हुई, कहा, उन्होंने (मोदी ने) कहा कि आप पार्टी को बचाने के लिये उनके साथ (दूसरे गुट के साथ) मिल सकते हैं। अन्नाद्रमुक के दोनों ध़डों का अगस्त २०१६ में विलय हो गया था। जयललिता के दिसंबर २०१६ में निधन के बाद मुख्यमंत्री बने पनीरसेल्वम ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को बताया कि उन्हें मंत्री पद नहीं चाहिए और वह पार्टी में पद से ही संतुष्ट हो सकते हैं। उन्होंने कहा, लेकिन प्रधानमंत्री चाहते थे कि वह पलानीस्वामी के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल में शामिल हों।

LEAVE A REPLY