चेन्नई। चेन्नई मेट्रो पहले चरण के मेट्रो कार्य का विस्तार वाशरमेनपेट से विमको नगर के बीच करने के लिए पूरी तरह से तैयार है। वाशरमेनपेट और कोरुक्कुपेट के बीच चेन्नई मेट्रो भूमिगत रेल लाइन पर संचालित की जाएगी और इसके बाद विमको नगर तक मेट्रो ट्रेन ऊपरी रेल लाइन पर संचालित की जाएंगी। केन्द्र सरकार ने इस कार्य को मंजूरी दे दी है। केन्द्रीय शहरी विकास मंत्रालय की ओर से इसके लिए सभी औपचारिकताएं पूरी की जा चुकी हैं। चेन्नई मेट्रो के अधिकारियों का कहना है कि पहले चरण के विस्तार कार्य के लिए उन्होंने सर त्यागराजा कॉलेज और कोरुक्कुपेट स्टेशन के निकट भूमिगत रेल लाइन बिछाने के कार्य के लिए निविदाएं आमंत्रित कर दी हैं। विस्तार कार्य के तहत भूमिगत और ऊपरी मेट्रो लाइन सहित कुल नौ किलोमीटर लंबी रेल लाइन बिछाई जाएगी। अधिकारियों के अनुसार वाशरमेनपेट तक मेट्रो की भूमिगत रेल लाइन और वाशरमेनपेट से विमको नगर तक ऊपरी रेल लाइन बिछाई जाएगी। कुछ समय पहले चेन्नई मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने एक डिजाइन कंसलटेंट को इस खंड पर मेट्रो रेल लाइन बिछाने के लिए नक्शा तैयार करने के लिए नियुक्त किया था। अधिकारियों का कहना है कि पहले चरण के विस्तार कार्य के तहत जिस नौ किलोमीटर रेल खंड का निर्माण करना है उसके लिए नक्शा तैयार करने का कार्य इस परियोजना को स्वीकृति देने से पहले शुरु कर दिया गया था ताकि जब इस परियोजना को मंजूरी मिल जाए तो समय की बचत हो और परियोजना को मंजूरी मिलते ही निर्माण कार्य शुरु कर देना चाहिए। इस परियोजना की अनुमानित लागत ३००० करो़ड रूपए है और राज्य सरकार ने वर्ष २०१० में भू-परीक्षण करने के बाद इस परियोजना को मंजूरी दे दी थी। पांच वर्षों के निर्माण कार्य के बाद चेन्नई मेट्रो रेल की पहली सेवा गत वर्ष जून महीने में कोयंबेडु से आलंदूर के बीच किया गया था।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY