mj akbar
mj akbar

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर ‘मी टू’ अभियान के बाद आरोपों में घिरे विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर रविवार को स्वदेश लौट आए। हवाईअड्डे पर पत्रकारों ने उनसे इस संबंध में कई सवाल पूछे। इस पर अकबर ने कहा कि वे खुद पर लगे आरोपों पर बाद में बयान जारी करेंगे।

‘मी टू’ अभियान के तहत अब तक कई जानेमाने लोगों पर गंभीर आरोप लग चुके हैं। एमजे अकबर पर जब महिला पत्रकार ने वर्षों पुरानी कथित घटना को लेकर आरोप लगाए तो यह चर्चा होने लगी कि केंद्र सरकार उन्हें पद से हटा सकती है।

हालांकि पार्टी में ही कई नेताओं ने यह बयान दिया कि अकबर का पक्ष भी सुना जाना चाहिए। इसके बाद उनके स्वदेश लौटने का इंतजार किया जा रहा था। विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर नाइजीरिया के दौरे पर थे। आमतौर पर देश—विदेश के मुद्दों को लेकर सोशल मीडिया पर सक्रिय रहने वाले अकबर ने पिछले करीब एक हफ्ते से इस मामले को लेकर कोई बयान नहीं दिया।

स्वदेश लौटने के बाद उन्होंने पत्रकारों से​ कहा कि बाद में उनकी ओर से बयान जारी किया जाएगा। चूंकि अकबर पत्रकार रह चुके हैं। ऐसे में चर्चा है कि वे आरोप—प्रत्यारोप में न पड़कर पहले पार्टी से बात करेंगे और बाद में अपना पक्ष रखेंगे।

बता दें कि 12 अक्टूबर को जब भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि आरोपों की सत्यता की जांच जरूरी है। यह देखना होगा कि ये आरोप सही हैं या गलत। उन्होंने कहा था कि सोशल मीडिया पर लिखी इस पोस्ट की सत्यता की जांच जरूरी है।

ये भी पढ़िए:
– योगी आदित्यनाथ थे बैठक में व्यस्त, चाकू लेकर आए शख्स ने मचाया हुड़दंग, सड़क पर पढ़ी नमाज
– मोदी द्वारा 25 साल पहले लिखे गीत पर दिव्यांग बच्चियों ने किया गरबा, धूम मचा रहा वीडियो
– सिद्धू के विवादित बोल: दक्षिण भारत जाने से पाकिस्तान जाना कई मायनों में बेहतर
– प्रधानमंत्री मोदी को जान से मारने की धमकी, दिल्ली पुलिस कमिश्नर को मिला ईमेल

LEAVE A REPLY