brahmos missile
brahmos missile

नागपुर। देश की सुरक्षा एजेंसियों ने सोमवार को रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के एक कर्मचारी को जासूसी के आरोप में गिरफ्तार किया है। जानकारी के अनुसार, उत्तर प्रदेश एटीएस ने महाराष्ट्र के नागपुर से डीआरडीओ कर्मचारी निशांत अग्रवाल को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि उसने देश की सुरक्षा से जुड़ी महत्वपूर्ण जानकारी पाकिस्तान और अमेरिका को सौंपी है।

कर्मचारी से अभी और पूछताछ की जा रही है। उस पर आरोप लगाया है कि वह पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए जासूसी कर रहा था। इसी सिलसिले में उसने कई गोपनीय जानकारियां पाकिस्तान और अमेरिका को सौंपी हैं।

विभिन्न रिपोर्टों में कहा गया है कि निशांत अग्रवाल डीआरडीओ की नागपुर स्थित ब्रह्मोस यूनिट में तैनात था। यहां सोमवार सुबह उत्तर प्रदेश एटीएस और इंटेलिजेंस मिलिट्री दिल्ली की ओर से कार्रवाई की गई। उसके बाद एजेंसियों ने इस बात का खुलासा किया।

निशांत के बारे में एजेंसियों का कहना है ​कि उसने ब्रह्मोस मिसाइल से जुड़ी तकनीकी जानकारी अमेरिका और पाकिस्तान की एजेंसियों तक पहुंचाई थीं। वह करीब चार साल से डीआरडीओ की नागपुर इकाई में काम कर रहा था। निशांत मूलत: उत्तराखंड से है। कार्रवाई के बाद इस मामले पर काफी चर्चा हो रही है।

ये भी पढ़िए:
– छात्रों का आरोप: स्कूल में नहीं बोलने दिया जाता ‘वंदेमातरम’, शिक्षक करते हैं पिटाई
– धूमिल हो रही विपक्ष के महागठबंधन की आस, अब बोले केजरीवाल- कांग्रेस को मत देना वोट
– लड़कियों के स्कूल की दीवार पर लिखता था अभद्र बातें, विरोध करने पर की छेड़छाड़, डंडों से पीटा
– एस-400 सौदे के बाद अमेरिकी प्रतिबंधों पर बोले सेना प्रमुख- ‘स्वतंत्र नीति पर चलता है भारत’

LEAVE A REPLY