fruits for blood purification
fruits for blood purification

बेंगलूरु। व्यस्त जीवनशैली की वजह से हम कई बार अपने स्वास्थ्य की ओर पूर्ण रूप से ध्यान नहीं दे पाते हैं। शरीर में पोषक तत्वों की कमी की वजह से ही कामकाजी महिलाओं में रक्त का अभाव पाया जाता है। वहीं पुरुषों में भी सही समय एवं नियमानुसार खाद्य पदार्थों सेवन न किए जाने से उनमें भी विभिन्न प्रकार की शारीरिक समस्याएं पाई जाती हैं।

रक्त, शरीर का सबसे महत्वपूर्ण तत्व होता है जो पोषक तत्वों और ऑक्सीजन को पूरे शरीर में ले जाता है। शरीर की लगभग सभी प्रणालियां, खून के संचार पर ही निर्भर करती हैं। अगर शरीर में खून की कमी है या खून साफ नहीं है तो शरीर में कई रोग उत्पन्न हो जाते हैं। इसलिए शरीर में खून की सही और साफ मात्रा का होना जरूरी है।

शुद्ध रक्त के लिए ऐसा भोजन या ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए कि खून से सभी विषैले तत्व एवं अशुद्धियां निकल जाएं और रक्त साफ हो जाए। पोषक तत्वों से भरपूर भोजन, शरीर के रक्त को साफ और शुद्ध बनाते हैं। फल, सब्जियां, हर्ब्स, मसाले, जूस और चाय आदि से रक्त की अशुद्धियां प्राकृतिक रूप से निकल जाती हैं और इनसे कोई नुकसान भी नहीं होता है। इस लेख के माध्यम से ऐसी ही कुछ खास प्राकृतिक रक्त शोधक यानी कि नेचुरल ब्लड प्यूरीफायर्स के खाद्य पदार्थों के बारे में जानकारी दी जा रही है-

1. ब्लूबेरी सबसे ताकतवर रोग उपचार करने वाला पदार्थ होता है, इसमें प्राकृतिक एस्प्रीन होता है जो शरीर में टूटने वाले टिश्यू को सही करता है और किसी भी बुरे प्रभाव से बचाता है। इसमें एंटीबॉयोटिक भी भरपूर मात्रा में होता है जो शरीर में हानिकारक बैक्टीरिया पनपने से रोकता है।

2. बंदगोभी कई गुणों से भरपूर होती है, इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटीकैंसर वाले गुण होते है जो लिवर के क्रियान्वयन को सही बनाए रखते हैं और बॉडी के हार्मोन्स को भी बैलेंस रखते हैं। सिगरेट पीने से शरीर में पैदा होने वाले विषैले तत्व भी इसके सेवन से दूर हो जाते हैं।

3. हल्दी एक पीले रंग का मसाला है जो भारतीय भोजन को पकाने में इस्तेमाल किया जाता है। इस मसाले में सबसे ज्यादा औषधीय गुण होते हैं। इसके सेवन से रक्त की अशुद्धियां दूर हो जाती हैं। विषैले तत्व, हल्दी मसाले के कारण प्राकृतिक रूप से शरीर से बाहर निकल जाते हैं।

4. चाय जैसे कई तरीके की ज़डी-बूटियां रक्त को शुद्ध कर देती हैं, वैसे ही चाय का उचित मात्रा में सेवन, रक्त की अशुद्धियों को निकालकर साफ कर देता है। चाय के सेवन को पूरी दुनिया में रक्त शुद्धि के लिए सबसे साधारण तरीका माना जाता है। लोग अदरक की चाय, पिपरमेंट चाय और डन्डेलिअन चाय को पीना पसंद करते हैं। ग्रीन टी भी रक्त के लिए काफी लाभदायक होती है, इसके सेवन से रक्त की अशुद्धियां दूर हो जाती हैं।

5. क्रैनबेरी या चेरी के सेवन से शरीर से हानिकारक बैक्टीरिया और वायरस बाहर निकल जाते हैं। इसमें एंटीबॉयोटिक और एंटीवायरल सबसे ज्यादा होता है।

6. लहसुन खाने से शरीर में स्थित हानिकारक बैक्टीरिया, आंत के परजीवी और वायरस आदि बाहर निकल जाते हैं। यह एक प्रकार का एंटी-कैंसर भी होता है और इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट भी भरपूर मात्रा में होता है जो शरीर से विषैले तत्वों को बाहर निकालने में मदद करता है।

7. एवोकाडो एक मैक्सिकन फल है जिसमें भरपूर मात्रा में पोषक तत्व होते हैं। इसके सेवन से कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होती है और रक्त वाहिकाओं में रक्त का संचार अच्छी तरह होता है। रक्त में किसी भी प्रकार की अशुद्धि होने पर भी एवोकाडो फायदेमंद होता है। एवोकाडो में ग्लूटाथीओन नामक पोषक तत्व होता है जो लिवर के विषैले तत्वों को दूर भगा देता है।

8. सेब में पेक्टिन, उच्च मात्रा में पाया जाता है, यह एक प्रकार का फाइबर होता है जो शरीर में कोलेस्ट्रॉल को संतुलित मात्रा में बनाए रखता है। इसके सेवन से शरीर में धात्विक गुण पहुंचते हैं जो विषैले तत्वों को साफ कर देते हैं। यह आंत और पेट के लिए सुपाच्य और स्वास्थ्यवर्धक होता है।

9. शरीर में हीमोग्लोबिन कम होने पर डॉक्टर अक्सर चुकंदर खाने की सलाह देते हैं। दरअसल, चुकंदर और मायनों में भी खास होता है। इसमें ऐसे घटक होते हैं जो रक्त को शुद्ध करते हैं और लिवर को भी स्वस्थ रखते हैं। इसका जूस भी बहुत फायदेमंद होता है।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY