नई दिल्ली। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने केन्द्रीय पुलिस बलों को महिलाओं की भर्ती के लिए विशेष अभियान चलाने को कहा है जिससे कि महिलाओं को इन बलों में ३३ प्रतिशत आरक्षण देने का लक्ष्य पूरा किया जा सके। सिंह ने शनिवार को गाजियाबाद में केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के ४९ वें स्थापना दिवस समारोह में भव्य परेड का निरीक्षण करने के बाद कहा कि बल को साइबर हमलों से निपटने के लिए साइबर सुरक्षा योजना को पुख्ता करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि डाटा चोरी, हैकिंग और साइबर अपराधों ने औद्योगिक सुरक्षा में एक नया आयाम जो़ड दिया है । इस बदलते परिदृश्य को देखते हुए गृह मंत्रालय में हाल ही में साइबर और सूचना सुरक्षा प्रभाग का गठन किया गया है। हवाई अड्डों तथा अन्य प्रतिष्ठानों की चाक चौबंद सुरक्षा व्यवस्था के लिए सीआईएसएफ की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि यात्रियों के साथ विनम्र रहना अच्छी बात है लेकिन सुरक्षा के मामले में किसी भी तरह की नरमी नहीं बरती जानी चाहिए क्योंकि विनम्र होना और चौकस रहना अलग -अलग बातें हैं। गृहमंत्री ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था आने वाले कुछ सालों में ५ खरब डालर के आंकडे को पार कर जाएगी और ऐसे में हवाई अड्डों, मेट्रो तथा तेज गति वाले रेलवे जैसी ढांचागत सुविधाओं को भी बढाने की जरूरत होगी। उन्होंने कहा कि सीआईएसएफ अंतरिक्ष अनुसंधान संगठनों तथा परमाणु संंयंत्रों सहित देश के सभी महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों की सुरक्षा का काम कर रहा है इसलिए देश के विकास में इसका योगदान में काफी महत्व है। सिंह ने इस मौके पर सराहनीय तथा विशिष्ट योगदान देने वाले बल के जवानों तथा अधिकारियों को पदकों से सम्मानित भी किया। उन्होंने सीआईएसएफ की कॉफी टेबल बुक का भी विमोचन किया।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY