lalu yadav
lalu yadav

रांची/ पटना/भाषा। चारा घोटाले के मामले में जेल में बंद राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने रांची स्थित राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) के अधिकारियों से अनुरोध किया है कि उन्हें अपने मौजूदा वॉर्ड से किसी अन्य वॉर्ड में भेज दिया जाए्। रिम्स में भर्ती प्रसाद ने गंदगी, मच्छरों के प्रकोप और आवारा कुत्तों के भौंकने की आवाज से होने वाली परेशानी के कारण वॉर्ड बदले जाने का आग्रह किया है।

प्रसाद के विश्वासपात्र राजद विधायक एवं पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव भोला यादव ने सोमवार को पीटीआई-भाषा को बताया कि पार्टी अध्यक्ष प्रसाद ने रिम्स अस्पताल के निदेशक को एक आवेदन देकर 100 बिस्तरों वाले पेइंग वॉर्ड में स्थानांतरित करने का अनुरोध किया है। पेइंग वॉर्ड में अभी सिर्फ तीन मरीज हैं।

भोला यादव ने कहा, हमने ऐसा अनुरोध करने के कारण भी बताए हैं। लालू जी के मौजूदा वॉर्ड के पास के शौचालय का पाइप जाम हो गया है और उससे बदबू आ रही है। राजद विधायक ने बताया कि साफ-सफाई की कमी से खास तौर से बरसात के मौसम में मच्छरों से संभावित खतरा है। इसके अलावा, वहां शोरशराबे की भी बड़ी समस्या है।

उन्होंने यह भी कहा कि पोस्टमॉर्टम हाउस पास में है और उसके कारण वहां कुत्तों के भौंकने के कारण परेशानी होती है। भोला यादव ने कहा, लालू जी के मधुमेह रोग से पीड़ित होने के नाते उन्हें नियमित रूप से टहलने की आवश्यकता है पर हृदय रोग विभाग का वॉर्ड इसके लिए उपयुक्त नहीं है। इसलिए हमने अनुरोध किया है कि उन्हें पेइंग वॉर्ड में भेज दिया जाए, जो हाल ही में बना है और वहां तुलनात्मक रूप से ज्यादा साफ-सफाई है।

उन्होंने कहा, हमें उम्मीद है कि अधिकारियों को इससे कोई समस्या नहीं होगी। हम कमरे का किराया और अन्य शुल्कों के भुगतान के लिए तैयार हैं। इस साल लालू जी जब एम्स में भर्ती थे, उस वक्त भी हमने यही किया था। इस बीच, बिहार में सत्ताधारी जदयू ने रांची के अस्पताल में प्रसाद को हो रही परेशानी पर कटाक्ष किया। जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने ट्वीट किया, अब आपको कुत्तों और मच्छरों से डर लगने लगा है। जब आप सत्ता में थे तो बिहार के लोगों को काफी डर लगता था।

ये भी ​पढ़िए:
पाकिस्तानी महिला ने भारतीय गाना गुनगुनाते हुए बनाया वीडियो, मिली बहुत सख्त सजा
अगर आपने भी रखे हैं ये पासवर्ड तो तुरंत बदल लें, वरना पड़ सकता है पछताना
क्या कांग्रेस में शामिल होंगे मानवेंद्र? बाड़मेर में चर्चा तेज
लगातार कई घंटे बैठकर करते हैं काम तो हो सकती हैं कैंसर, हार्ट अटैक समेत ये बीमारियां

Facebook Comments

LEAVE A REPLY