चंदौली। उत्तर प्रदेश के मुगलसराय जंक्शन का नाम बदलकर पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन कर दिया गया है। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने रविवार को नाम पट्टिका का अनावरण किया है। कार्यक्रम में केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल, प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अलावा भाजपा के कई नेता और रेलवे के अधिकारी मौजूद थे। केंद्र सरकार पूर्व में ही मुगलसराय जंक्शन का नाम बदलने की घोषणा कर चुकी थी। अब यह मशहूर जंक्शन पं. दीनदयाल उपाध्याय के नाम से जाना जाएगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस जंक्शन का नाम बदलने का सुझाव दिया था, जिसके बाद काफी लोगों ने इसका स्वागत किया, तो कहीं विरोध के स्वर भी उठे। केंद्र ने उनके सुझाव पर सहमति की मुहर लगा दी। यह उत्तर प्रदेश में स्थित प्रमुख रेलवे जंक्शन है। यहां एक दिन में करीब 200 से ज्यादा रेलगाड़ियां आती हैं।

Deen Dayal Upadhyay Junction
Deen Dayal Upadhyay Junction

नामकरण के साथ ही रेलवे स्टेशन पर रंग-रोगन भी किया गया है। पूरा स्टेशन केसरिया रंग से दमक रहा है। इसके अलावा विभिन्न स्थानों पर लगे साइनबोर्ड भी बदले जा रहे हैं। उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के विचारक पं. दीन दयाल उपाध्याय 1968 में मुगलसराय रेलवे स्टेशन के पास मृत पाए गए थे। अब यह जंक्शन उनके नाम से जाना जाएगा।

रेलवे स्टेशन पर आयोजित कार्यक्रम में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने प्रदेश की योगी सरकार और केंद्र की मोदी सरकार को धन्यवाद कहा। उन्होंने योगी सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में माफिया राज पूरी तरह खत्म हो चुका है। वहीं चंदौली के सांसद महेंद्रनाथ पांडेय ने कहा है कि पं. उपाध्याय के नाम से जंक्शन का नामकरण करने से पूरे देश में उत्साह है। उन्होंने पं. उपाध्याय के योगदान और मोदी सरकार की नीतियों के बारे में बताया। सोशल मीडिया पर यह विषय आज काफी चर्चा में है।

जरूर पढ़िए:
– तो फ़ौज नहीं, इस एप की ‘कृपा’ से चुनाव जीते हैं इमरान ख़ान!
– मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री बनाने के लिए बुजुर्ग ने मांगी मनौती, पेट के बल कर रहे 90 किमी यात्रा
– पढ़िए मां ढाकेश्वरी के उस मंदिर की कहानी जिसका मज़ाक उड़ाने के बाद युद्ध में हारा पाकिस्तान

Facebook Comments

LEAVE A REPLY