भुज। गुजरात विधानसभा चुनाव में हार्दिक पटेल की अगुवाई वाली पाटीदार आरक्षण आंदोलन समिति (पास) के एक दर्जन से अधिक प्रमुख संयोजकों के कांग्रेस की टिकट पर चुनाव ल़डने की अटकलों के बीच पास नेता ने दावा किया है कि उनके संगठन का एक भी व्यक्ति चुनाव नहीं ल़डेगा। हार्दिक ने रविवार रात कच्छ जिले में अपनी एक सभा के दौरान पत्रकारों से कहा कि वह स्पष्ट करना चाहते हैं कि पास का कोई भी नेता चुनाव नहीं ल़डेगा। अगर कोई चुनाव लडेगा तो उसका पास से इस मामले में कोई लेना देना नहीं होगा। वह स्वयं अगले तीन साल तक चुनावी राजनीति से नहीं जु़डेंगे। वह जनता के बीच जाकर उसके मुद्दों को जान रहे हैं और इसको लेकर सरकार पर दबाव बनाना ही उनका काम है। ज्ञातव्य है कि इस तरह की अटकले हैं कि उनके सबसे करीबी पास नेता दिनेश बांभणिया, अल्पेश कथिरिया, ललित वसोया, गीता पटेल आदि समेत एक दर्जन से अधिक पास नेता कांग्रेस के उम्मीदवार बनेंगे।इस बीच, चुनाव में कांग्रेस अथवा अन्य राजनीतिक दल को समर्थन देने को लेकर पास की एक बैठक आज बांभणिया के गांधीनगर के निकट सरगासण स्थित फार्महाऊस पर हो रही है। दूसरी ओर पाटीदार समुदाय के एक अन्य प्रमुख संगठन सरदार पटेल ग्रुप यानी एसपीजी की भी ऐसी ही एक बैठक गांधीनगर के निकट रायसण में हो रही है। बांभणिया ने कहा कि पास किसी भी हाल में भाजपा का विरोध करेगी। यह कांग्रेस के अलावा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी तथा शिवसेना जैस अन्य दलों के बारे में भी विचार करेगी।फ्ैं्यप्थ्य्द्म द्बष्ठ्र ृय्द्यूय्ह्लय् झ्द्य ू्रु झ्श्न्यत्रप्रय्त्र द्धैं्यख्रप्रय् ·र्ैंर्‍ द्धय्त्र ·र्ैंब्र्‍्र द्मब्र्‍्र गुजरात में पाटीदार आरक्षण आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने आज दावा किया कि संविधान में ५० प्रतिशत से अधिक आरक्षण देने पर बंदिश नहीं है।हार्दिक ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि संविधान में कही भी आरक्षण की सीमा ५० प्रतिशत नहीं तय की गई है। ऐसी बंदिश कही भी नहीं है। उच्चतम न्यायालय ने इस मामले में एस नागराज, एम आर बालाजी और इंदिरा साहनी के तीन मामलों में अलग अलग निर्णय दिए हैं।अदालत का एक निर्णय तो कहता है कि ५० प्रतिशत से अधिक आरक्षण नहीं दिया जा सकता पर दूसरे में सर्वे कर ऐसा करने की छूट थी और एक अन्य में इसको संबंधित राज्य के ऊपर छो़डा गया था।हार्दिक ने कहा कि कांग्रेस ने पाटीदार समुदाय को आरक्षण दिलाने के लिए तीन फार्मूले पेश किए हैं। इन पर चर्चा के लिए उनके संगठन पास की कोर कमेटी की बैठक में भाग लेने के बाद वह विशेषज्ञों से चर्चा करेंगे।

LEAVE A REPLY