लखनऊ। इलाहाबाद में दलित छात्र की हत्या पर गहरा दु:ख एवं संवेदना व्यक्त करते हुए बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने सोमवार को कहा कि शोषित-पीि़डत दलित समाज के एक होनहार एलएलबी छात्र की हत्या पूरे समाज के लिए ब़डे दुःख एवं चिन्ता की बात है। इस घटना से पूरा समाज आहत हुआ है। उन्होंने कहा, इलाहाबाद में दलित छात्र की इस प्रकार नृशंस हत्या वास्तव में उत्तर प्रदेश के भाजपा शासन में कोई अकेली नई घटना नहीं है, बल्कि ऐसी दर्दनाक घटनाएं लगातार घट रही हैं और इनके लिए कोई और नहीं बल्कि भाजपा की संकीर्ण, जातिवादी एवं नफरत की राजनीति पूरी तरह से दोषी है। इसके कारण ही उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे देश में माहौल काफी अधिक दूषित हो गया है। बसपा सुप्रीमो ने कहा कि सर्वसमाज ख़ासकर प़ढे-लिखे युवकों को रोजगार नहीं मिल पाने के कारण वे कुण्ठा का शिकार हैं और इस कारण विभिन्न प्रकार के अपराध हर स्तर पर लगातार ब़ढ रहे हैं तथा समाज का तानाबाना बिखर रहा है। मायावती ने कहा कि दिलीप सरोज नामक जिस छात्र की अकारण खुलेआम हत्या कर दी गई, उसके परिवार की किसी रूप में भरपाई तो नहीं की जा सकती लेकिन उन्हें सांत्वना देने के लिए बसपा उत्तर प्रदेश यूनिट के अध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री रामअचल राजभर को स्थानीय पार्टी यूनिट के लोगों के साथ जाकर परिवार से मिलने का निर्देश दिया गया है ताकि उनकी यथासंभव मदद की जा सके। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को दोषियों को सख़्त स़जा देने के साथ-साथ पीि़डत परिवार की भी जरूर मदद करनी चाहिए।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY