चेन्नई। वरिष्ठ पत्रकार एवं नेशनल हेराल्ड के प्रधान संपादक नीलाभ मिश्र का आज यहां ग्रीम्स रोड स्थित अपोलो अस्पताल में शनिवार सुबह ७.३० बजे निधन हो गया। वह ५७ वर्ष के थे। नीलाभ को नॉन-एल्कोहॉलिक लीवर सिरॉसिस की शिकायत थी। ज्यादा तबीयत खराब होने पर उन्हें चेन्नई के अपोलो अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान उनका मल्टीपल ऑर्गन फेल्योर हो गया। इसी कारण उनका लीवर ट्रांसप्लांट भी नहीं कराया जा सका। नीलाभ मिश्र के निधन के वक्त उनके पास उनके रिश्तेदार, दोस्त और करीबी लोग थे।नीलाभ मिश्र ने वर्ष २०१६ में वेबसाइट के रूप में नेशनल हेराल्ड डिजिटल शुरू किया था। उन्होंने नेशनल हेराल्ड ऑन संडे वीकली न्यूज पेपर भी लॉन्च किया था। साथ ही नेशनल हेराल्ड के सहयोगी प्रकाशन नवजीवन और कौमी आवाज को भी डिजिटल फार्मेट में वेबसाइट के रूप में उतारा। नेशनल हेरल्ड के एडिटर-इन-चीफ बनने से पहले नीलाभ कई वर्षों तक आउटलुक हिंदी के संपादक रहे।दिल्ली यूनिवर्सिटी से अंग्रेजी में मास्टर्स की डिग्री लेने वाले नीलाभ मिश्र ने अपने कैरियर की शुरुआत नवभारत टाइम्स के साथ अपने गृह नगर पटना से की थी। वहां से वह राजस्थान चले गए और न्यूज टाइम के जयपुर संवाददाता के रूप में काम किया। उन्होंने वर्ष १९९८ में राजस्थान में इनाडू टीवी भी शुरू कराया। मिश्र अपने पीछे अपने परिवार में अपनी पत्नी और दो बच्चों को छो़ड गए हैं।कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मिश्र के निधन पर शोक व्यक्त किया और उन्हें एक ऐसा व्यक्ति बताया जिसने हमेशा मजबूती के साथ सच्चाई का पक्ष रखा। उन्होंने ट्वीट किया, वह संपादकों के संपादक थे। ऐसा व्यक्ति जिसने मजबूती के साथ सच बोला। संस्थान निर्माता थे। नीलाभ मिश्र के आज सुबह दुखद निधन पर उनके परिजन, मित्रों, सहकर्मियों तथा प्रशांसकों के प्रति मैं अपनी गहरी संवेदनाएं व्यक्त करता हूं्।’’

Facebook Comments

LEAVE A REPLY