नई दिल्ली। एक लाइव टीवी साक्षात्कार के दौरान योग गुरु बाबा रामदेव ने देश के एक जाने माने टीवी पत्रकार को टैक्स चोरी करने का आरोप लगाए जाने के बाद उन्हें जमकर फटकार लगाई। आजतक चैनल के एक साक्षात्कार कार्यक्रम के दौरान तीन टीवी पत्रकारों की एक टीम उनसे सवाल कर रही थी। इसी दौरान पत्रकार पुण्य प्रसून वाजपेयी ने बाबा रामदेव से यह पूछ लिया कि वह ट्रस्ट बनाकर टैक्स चोरी क्यों कर रहे हैं?इस साक्षात्कार के दौरान बाबा रामदेव से तीनों पत्रकारों ने बारी-बारी से प्रत्यक्ष विदेशी निवेश सहित अन्य मुद्दों पर सवाल किये। साक्षात्कार के दौरान सबसे पहले बाबा तो उस समय झुंझला गए जब पुण्य प्रसून वाजपेयी ने यह पूछा कि वह योग गुरु बाबा रामदेव से बात कर रहे हैं या एक अरबपति-खरबपति बाबा से बात कर रहे हैं। बाबा रामदेव ने यह भी कहा कि चूंकि देश में उनके कई उत्पादों को तैयार करने के लिए मशीनें उपलब्ध नहीं थी इसलिए उन्हें यह मशीनें विदेश से मंगानी प़डी।बात आगे बढने पर पुण्य प्रसून ने यह कह दिया कि बाबा रामदेव आप चार्टर्ड प्लेन और लंबी गाि़डयों में चलते हैं और यदि चार्टर्ड अकाउंटेंट से बात करें तो उनका कहना होता है कि ट्रस्ट बनाने से बाबा रामदेव को भविष्य में टैक्स बचाने मंे मदद मिलेगी। इसी बात पर बाबा रामदेव भ़डक गए और उन्होंने कहा कि आप गंभीर आरोप लगा रहे हैं। आप एक लाइव कार्यक्रम के दौरान मुझ पर आरोप कैसे लगा सकते हैं? आप एक पत्रकार होकर मुझ पर राजनेता की तरह आरोप नहीं लगा सकते हैं।इस दौरान पैनल में मौजूद अन्य पत्रकारों ने रोकना चाहा लेकिन उन्होंने कहा कि जब आरोप लगाया गया है तो मैं इसका जवाब दूंगा। उन्होंने कहा कि मैं चार्टर्ड प्लेन से नहीं चलता, लंबी गाि़डयों में नहीं चलता। मैं इंडिगो मेंे लोगों के साथ सफर करता हूं और मैं बोलेरो जैसी गा़डी से चलता हूं। उन्होंने पत्रकारों से कहा कि अगर कंपनी का टर्नओवर बढ रहा है तो इससे आपको क्या ईष्र्या है?बाबा रामदेव ने कहा कि मैंने ट्रस्ट बनाकर कौन सा गुनाह कर दिया? मैं ट्रस्ट बनाकर स्कूल खोल रहा हूं, योग संबंधी कॉलेज, विश्वविद्यालय। मैंने ११ हजार करो़ड रुपये समाजसेवा में लगाये। डोनेशन से जो पैसा ट्रस्ट में आता है वह पूरा चैरिटी में लगाया जाता है। इसमें कौनसी चोरी की? बाबा रामदेव बोले कि तमाम ट्रस्ट में घोटाले होते हैं, ८०-८० प्रतिशत घोटाले हो जाते हैं, मगर मेरे ट्रस्ट में एक रुपये का भी घोटाला नही हुआ। रामदेव ने कहा-मैं अंतिम सांस तक देश के साथ न धोखा करूंगा, न ही कोई बेईमानी। रामदेव बोले कि मैं गरीब परिवार में पैदा हुआ हूं, टाटपट्टी पर बैठकर प़ढाई की है। जमीन पर ही सोता हूं। खोल रहा हूं इसमें क्या गलत है? उन्होंने यहां तक कहा कि मैं यहां स्वदेशी के प्रवक्ता के रुप में बैठा हूं भाजपा के प्रवक्ता के रुप में नहीं। यदि आपको मोदी से समस्या है तो उनसे पूछिए। बाबा ने पतंजलि उत्पादों को ऑनलाइन लाने के बारे में पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवाल पर जवाब देते हुए कहा कि उन्होंने लोगों तक उत्पादों को पहुंचाने के लिए यह कदम उठाया है।

LEAVE A REPLY