नई दिल्ली/भाषाकेंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने बुधवार को पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के दो अरब डॉलर से अधिक के घोटाले के संबंध में आभूषण कारोबारी मेहुल चोकसी और उसकी मालिकाना कंपनियों तथा अन्य व्यक्तियों सहित १७ अन्य के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया। मुंबई में एक विशेष सीबीआई अदालत में आरोपपत्र दायर किया गया। चोकसी, गीतांजलि समूह की कंपनियों तथा १६ अन्य के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी से जु़डे आरोपपत्र में एजेंसी ने आपराधिक साजिश, धोखाध़डी तथा भ्रष्टाचार निरोधक कानून के प्रावधानों के तहत आरोप लगाए। अधिकारियों ने कहा कि यह चोकसी के भांजे नीरव मोदी के खिलाफ १४ मई को दायर आरोपपत्र से अलग है। उन्होंने कहा कि वर्तमान आरोपपत्र चोकसी के खिलाफ दर्ज प्राथमिकी से संबंधित है। उन्होंने कहा कि नीरव के खिलाफ पूरक आरोपपत्र भी जल्द दायर किये जाएंगे। पीएनबी की शिकायत पर यह प्राथमिकी दर्ज हुई थी। शिकायत के अनुसार, बैंक का कथित नुकसान ४८८६ करो़ड रुपये से अधिक का है जो चोकसी की कंपनियों को जारी १४३ सहमति पत्र और २२४ विदेशी ऋण पत्र से हुआ। इसमें कहा गया कि चोकसी और उसके भांजे नीरव (दोनों फरार) द्वारा कथित साजिश से कुल नुकसान दो अरब डॉलर से अधिक का हुआ।

LEAVE A REPLY