लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने मेरठ में बाबा साहब भीमराव अंबेडकर समेत की मूर्ति तो़डे जाने की क़डी निंदा करते हुए इसके लिए जिम्मेदार शरारती तत्वों की जल्द गिरफ्तारी की मांग की है। इसके साथ ही उन्हांेने दलित समाज से संयम बनाये रखने की अपील की है। बसपा सुप्रीमो ने गुरुवार को यहां जारी बयान में कहा कि पिछले कुछ दिनों से देश के अलग अलग हिस्सों में तो़डी जा रही प्रतिमाओं के पीछे वे शरारती तत्व है जो देश में नफरत फैला कर सांप्रदायिक सौहाद्र बिगा़डना चाहते है। यह सब गलत व घृणित कृत्य कर देश के लोकतन्त्र, धर्मनिरपेक्षता व सामाजिक सद्भाव को कमजोर कर रहे है। उन्हांेने कहा कि अब तो उत्तर प्रदेश भी इसकी चपेट में आ गया है जहां मेरठ जिले में संविधान निर्माता व दलितों एवं अन्य कमजोर वर्गों के मसीहा बाबा साहेब डा. भीमराव अम्बेडकर की भी जातिवादी व असामाजिक तत्वों ने प्रतिमा तो़ड दी है जिसकी उनकी पार्टी क़डे शब्दों में निन्दा करती है और साथ ही ऐसे तत्वों के विरुद्ध सख्त कानूनी कार्यवाही करने की भी मांग करती है।सुश्री मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश समेत पूरे देश में खासकर दलितों एवं अन्य पिछ़डे वर्गों मे जन्में महान सन्तों, गुरुओं व महापुरुषों की लगी प्रतिमाओं को सुरक्षित रखने और उनके आदर-सम्मान में बने स्मारकों, पार्को व अन्य स्थलों आदि को भी सुरक्षित रखने के लिए केन्द्र और राज्य सरकारों को विशेष ध्यान देना होगा। ऐसे खराब हालातों में वहाँ सुरक्षाकर्मियों को तैनात करें, जब तक हालात सामान्य नहीं हो जाते।

LEAVE A REPLY