सीकर। जनलोकपाल के लिए आंदोलन करने वाले समाजसेवी अन्ना हजारे ने कहा कि जनता की चाबी सत्ता और संगठनों का तख्तापलट करने में सक्षम है। गोविंदग़ढ में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए हजारे ने किसानों की समस्याओं पर गहरी चिता व्यक्त करते हुए केन्द्र और प्रदेश सरकार की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि जनता के पास चाबी है, जनता को उस चाबी का महत्व समझना है। उन्होंने कहा कि उन्हे जेल में डाला या तो सरकार गिर गई। महाराष्ट्र सरकार ने जब उन्हे जेल में डाला तो सरकार गिर गई। उधर, जयपुर में उन्होंने कहा कि किसानों को जागरूक करने के लिए वे पूरे देश की यात्रा कर रहे हैं। लोकपाल के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की सरकार ने लोकपाल को कमजोर किया और बाद में नरेंद्र मोदी की सरकार ने इसे और कमजोर कर दिया।

LEAVE A REPLY