विदिशा। कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई में आपसी कलह थमने का नाम नहीं ले रही। पार्टी में बढ़ते झगड़े और अनुशासनहीनता देख कांग्रेस महासचिव और प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) की मिसाल दी है। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा है कि वे संघ से अनुशासन सीखें। उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ता को यह सीख प्रदेश के विदिशा में दी।

दरअसल सोमवार को प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया और चिमन पटेल विदिशा में थे। उनके सामने उस वक्त अजीब स्थिति पैदा हो गई जब कांग्रेस कार्यकर्ता आपस में ही झगड़ा करने लगा। यह झगड़ा छोटी-सी तकरार से शुरू हुआ जो आपसी भिड़ंत तक जा पहुंचा। बाबरिया के सामने ही मंच साझा करने के लिए विवाद शुरू हो गया।

दीपक बाबरिया कार्यकर्ताओं के साथ बैठक में मौजूद थे। उस समय मंच पर सिंधू विक्रम सिंह को जगह नहीं मिली। सिंह शमशाबाद से चुनाव हार चुके हैं। उन्हें मंच पर न बैठाने से उनके कार्यकर्ता भड़क गए। फिर कांग्रेसियों में ही जगह को लेकर झगड़ा हो गया। उधर दीपक बाबरिया मंच से शांति बनाए रखने की अपील करते रहे, लेकिन उनकी किसी ने एक न सुनी।

वहां मौजूद चिमन भाई ने विरोध किया तो कुछ कार्यकर्ता उनसे भी उलझ गए। कुछ रिपोर्टों में कहा गया है कि कार्यकर्ता उन्हें मारने दौड़े। मौके पर दूसरे कार्यकर्ताओं ने बचाव ​कर पटेल को बचाया। यह सब देख दीपक बाबरिया ने आरएसएस के अनुशासन की मिसाल दी। उन्होंने कहा, संघ का अनुशासन और मातृभूमि के लिए प्रेम अनुकरणीय है।

उसके बाद मीडिया ने संघ के संबंध में उनके द्वारा दिए गए बयान पर सवाल किया तो बाबरिया बोले, .. दुनिया में वो जो अच्छा काम कर रहे हैं अनुशासन को लेकर, पंडित नेहरू ने चीन के साथ लड़ाई में उनका जो उपयोग किया था उसके बाद भी, उनकी जो उपलब्धि है उसे सराहने में हमें कोई संकोच नहीं है।

उल्लेखनीय है कि इन दिनों मध्य प्रदेश कांग्रेस में आपसी फूट और झगड़े की कई घटनाएं सामने आ चुकी हैं। पार्टी में बढ़ती गुटबंदी और अनुशासनहीता की घटनाएं देख कार्यकर्ता भी कहने लगे हैं कि चुनाव सिर पर हैं, कहीं ये सब उनकी मेहनत पर पानी न फेर दे।

जरूर पढ़िए:
– विभाजन के दौरान कराची के इन पंचमुखी हनुमान ने बचाए थे अपने कई भक्तों के प्राण
– न्यूनतम राशि न रखने पर जुर्माना लगा बैंक हो गए मालामाल, कर ली करोड़ों की कमाई
– मेहुल चोकसी मामले में भारत को बड़ी कामयाबी, एंटीगुआ से की प्रत्यर्पण संधि!
– आतंकी 15 अगस्त को दिल्ली में करना चाहते थे धमाके, पुलिस ने युवक से बरामद किए 8 ग्रेनेड

Facebook Comments

LEAVE A REPLY