करुणानिधि का निधन, प्रशंसकों में शोक की लहर

1
523

चेन्नई। तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और द्रविड़ मुन्नेत्र कषगम (द्रमुक) नेता एम. करुणानिधि का 94 साल की उम्र में निधन हो गया है। इसके बाद उनके प्रशंसकों में शोक की लहर दौड़ गई। कावेरी अस्पताल के डॉक्टरों ने उन्हें मंगलवार शाम 6.10 बजे मृत घोषित किया। उनका 28 जुलाई से ही आईसीयू में इलाज जारी था। उनके समर्थक चेन्नई में अस्पताल के बाहर इकट्ठे हो गए थे। वे उनकी सलामती के लिए दुआ कर रहे थे। कावेरी अस्पताल के डॉक्टरों ने कहा था कि काफी इलाज के बावजूद करुणानिधि की सेहत सुधार नहीं हो रहा था। इसके बाद से ही समर्थक काफी परेशान थे।

कावेरी अस्पताल के बाहर द्रमुक समर्थकों का आना लगातार बढ़ता जा रहा है। कार्यकर्ता उनके लिए नारे लगा रहे थे। कई महिला समर्थक करुणानिधि की तस्वीरें थामें खड़ी हैं। कई समर्थक बेहद भावुक हो गए हैं। जब उन्हें मालूम हुआ कि करुणानिधि गुजरे गए तो वे रोने लगे।

मंगलवार को कावेरी अस्पताल के डॉक्टरों ने करुणानिधि की सेहत के संबंध में जो मेडिकल बुलेटिन जारी किया, उसने उनके समर्थकों की चिंता और बढ़ा दी थी। लगातार इलाज के बावजूद सेहत में कोई सुधार नहीं हो रहा था। उनके देहांत की खबर के बाद लोग उन्हें श्रद्धांजलि देने आ रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर करुणानिधि को श्रद्धांजलि दी है।

जरूर पढ़िए:
– विभाजन के दौरान कराची के इन पंचमुखी हनुमान ने बचाए थे अपने कई भक्तों के प्राण
– न्यूनतम राशि न रखने पर जुर्माना लगा बैंक हो गए मालामाल, कर ली करोड़ों की कमाई
– मेहुल चोकसी मामले में भारत को बड़ी कामयाबी, एंटीगुआ से की प्रत्यर्पण संधि!
– आतंकी 15 अगस्त को दिल्ली में करना चाहते थे धमाके, पुलिस ने युवक से बरामद किए 8 ग्रेनेड

Facebook Comments

1 COMMENT

  1. करूणा निधी का निधन दक्षिण की राजनीति में एक युग का अंत है। द्रमुक प्रमुख का चले जाना पार्टी में शून्यता तो पैदा करेगा ही, दक्षिण की राजनीति में भी दूरगामी परिवर्तन का संकेत भी है।
    देश के बड़े नेता को श्रद्धांजलि….

LEAVE A REPLY