unhrc
unhrc

संयुक्त राष्ट्र। मानवाधिकारों के क्षेत्र में हमारे देश को एक बड़ी सफलता मिली है। भारत ने संयुक्त राष्ट्र की मानवाधिकार इकाई संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद (यूएनएचआरसी) का चुनाव बहुमत से जीता है। यह कार्यकाल तीन साल के लिए होगा। इसकी शुरुआत 1 जनवरी, 2019 से होगी। भारत को एशिया प्रशांत क्षेत्र की श्रेणी में 188 वोट प्राप्त हुए जो दूसरों से ज्यादा हैं। यूएनएचआरसी का सदस्य बनने के लिए कम से कम 97 वोट चाहिए। भारत को इससे कहीं ज्यादा वोट मिले और बहुमत से जीता। 193 सदस्यीय संयुक्त राष्ट्र (यूएन) जनरल असेंबली के नए सदस्यों का चुनाव किया गया था।

एशिया प्रशांत क्षेत्र श्रेणी में बहरीन, बांग्लादेश, फिलिपींस और फिजी भी मैदान में थे, लेकिन भारत अव्वल रहा। इस जीत के बाद यूएन में भारत के राजदूत सैयद अकबरुद्दीन ने इसे देश की स्वीकार्यता बताया। उन्होंने एक ट्वीट भी किया जिस पर काफी लोग खुशी जता रहे हैं।

सैयद अकबरुद्दीन लिखते हैं, ‘एक अच्छे उद्देश्य के लिए वोटिंग। यूएन में हमारे सभी साथियों का समर्थन के लिए धन्यवाद।’ उन्होंने बताया कि भारत ने यूएनएचआरसी के इस चुनाव में बाकी सभी उम्मीदवार देशों से ज्यादा वोट हासिल करते हुए जीत दर्ज की।

यूएनएचआरसी की स्थापना वर्ष 2006 में हुई थी। इसका मुख्यालय जेनेवा, स्विट्जरलैंड में है। इसके निर्वाचित सदस्य देशों की संख्या 47 है। इसने निर्वाचन की पांच श्रेणियां बनाई हैं जो भौगोलिक स्थिति के आधार पर हैं। भारत एशिया प्रशांत श्रेणी में आता है। यूएनएचआरसी में भारत 2011-14 और 2014-17 में भी निर्वाचित हो चुका है। दिसंबर 2017 में कार्यकाल पूरा होने के बाद उसने तुरंत तीसरा चुनाव नहीं लड़ा, क्योंकि यूएनएचआरसी के नियम इसकी इजाजत नहीं देते।

इसके अलावा यूएनएचआरसी अफ्रीकन स्टेट्स, ईस्टर्न यूरोपियन स्टेट्स, लैटिन अमेरिकन और कैरिबियन स्टेट्स, वेस्टर्न यूरोपियन और अन्य स्टेट्स नामक श्रेणियों से निर्वाचन करता है। यूएनएचआरसी में भारत का बहुमत के साथ निर्वाचन मानवाधिकारों के क्षेत्र में देश की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। साथ ही वैश्विक मंचों पर भारत की आवाज और बुलंद होगी। पाकिस्तान के इस दावे को दुनिया ने नकार दिया जिसके तहत वह भारत पर कश्मीर को लेकर आरोप लगाता रहा है।

ये भी पढ़िए:
– आॅनलाइन सेंध: मुंबई स्थित दिग्गज बैंक की शाखा से सर्वर हैक कर लूट लिए 143 करोड़ रुपए
– क्या दुनियाभर में अगले 48 घंटों में ठप हो जाएगा इंटरनेट?
– अलीगढ़ मुस्लिम विवि में आतंकी मन्नान वानी के लिए शोक सभा से मचा हड़कंप, 3 छात्र निलंबित
– अपराध कथा के कार्यक्रम और इंटरनेट सर्च से रचा षड्यंत्र, तिहरे हत्याकांड में चौंकाने वाले खुलासे

LEAVE A REPLY