गोल्ड कोस्ट/वार्ताभारतीय टीम ने अपने विजय अभियान को आगे ब़ढाते हुए रविवार को सेमीफाइनल में सिंगापुर को ३-१ से हराकर २१वें राष्ट्रमंडल खेलों की मिश्रित टीम बैडमिंटन स्पर्धा के फाइनल में प्रवेश कर लिया। भारत का फाइनल में गत चैंपियन मलेशिया से सोमवार को मुकाबला होगा जिसने अन्य सेमीफाइनल में इंग्लैंड को ३-० से पराजित किया।विश्व के दूसरे नंबर के पुरुष खिला़डी किदाम्बी श्रीकांत और महिला एकल में सायना नेहवाल ने जीत में अहम भूमिका निभाई। ओलंपिक पदक विजेता स्टार खिला़डी सायना ने सिंगापुर की जिया मिन यिओ को २१-८, २१-१५ से हराकर ३८ मिनट में अपना मैच जीता। शीर्ष वरीय श्रीकांत ने पुरुष एकल मैच में कियान यिउ लोह को लगातार गेमों में २१-१७, २१-१४ से हराकर अपना एकल मैच जीता। सेमीफाइनल मुकाबले की शुरुआत मिश्रित युगल मैच से हुई जिसमें अनुभवी अश्चिनी पोनप्पा और सात्विकसेराज रैंकीरेड्डी की जो़डी ने योंग काई तेरी और जिया यिंग क्रिस्टल को ४२ मिनट तक चले मैच में २२-२०, २१-१८ से हराकर भारत को १-० की ब़ढत दिलाई। श्रीकांत ने दूसरा एकल मैच जीतकर स्कोर २-० किया लेकिन पुरुष युगल मैच में सात्विकसेराज रैंकीरेड्डी और चिराग चंद्रशेखर शेट्टी की पुरुष युगल जो़डी को तीसरे मैच में हार का सामना करना प़ड गया। भारतीय पुरुष युगल जो़डी ने हालांकि तीन गेमों तक संघर्ष किया लेकिन वह काई तेरी और डैनी बावा क्रिस्टाना से २१-१७,१९-२१,१२-२१ से मैच हार गए। इसके बाद भारत को जीत दिलाने की जिम्मेदारी अनुभवी सायना के कंधों पर आ गई जिन्होंने अपने चौथे महिला एकल मैच में जीत के साथ स्कोर ३-१ कर भारत को फाइनल में पहुंचा दिया।

Facebook Comments

LEAVE A REPLY