भारतवंशी बच्चे ने अमेरिका में रोशन किया नाम, 15 साल की उम्र में ली बायो मेडिकल में डिग्री

0
297
Tanishq Abraham
Tanishq Abraham

तनिष्क अपनी इस उपलब्धि पर बेहद खुश हैं, पर वे यहीं रुकना नहीं चाहते। उन्होंने तय किया है कि अब वे बायो मेडिकल में गहन शोध कर पीएचडी लेंगे। तनिष्क के इस सपने पर हजारों लोगों ने उन्हें शुभकामनाएं दी हैं।

कैलिफोर्निया। अमेरिका में रहने वाले एक भारतवंशी बच्चे ने वह कारनामा कर दिखाया जिसके बाद उसे देश-विदेश से बधाइयां मिल रही हैं। इस बच्चे ने सिर्फ 15 साल की उम्र में ग्रेजुएशन कर लिया। इसका नाम ​तनिष्क अब्राहम है। जैसे ही इसकी तस्वीरें जारी की गईं, वे सोशल मीडिया में वायरल हो गईं। जानकारी के अनुसार, तनिष्क ने 11 साल की उम्र में कैलिफोर्निया से ग्रेजुएशन की डिग्री ले ली थी। उसके बाद उसने तीन साल के बायो मेडिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई की।

अब तनिष्क ने यह कोर्स भी पूरा कर लिया है। आमतौर पर ये कोर्स काफी मुश्किल होते हैं, जिनके लिए युवा विद्यार्थियों को भी काफी पढ़ाई करनी होती है। विषय की गंभीरता से जुड़ी कई बातें छोटी कक्षाओं में पढ़ने वाले कम उम्र के विद्यार्थी तो प्राय: समझ ही नहीं पाते। ऐसे में तनिष्क का यह कारनामा विषय के धुरंधरों को चौंकाता है।

तनिष्क अपनी इस उपलब्धि पर बेहद खुश हैं, पर वे यहीं रुकना नहीं चाहते। उन्होंने तय किया है कि अब वे बायो मेडिकल में ही गहन शोध कर पीएचडी लेंगे। तनिष्क के इस सपने पर हजारों लोगों ने उन्हें शुभकामनाएं दी हैं। उनका कहना है कि जिस तरह तनिष्क अब तक कामयाब होते हैं, पीएचडी भी जरूर पूरी कर लेंगे।

तनिष्क का परिवार उच्च शिक्षित है। उनकी मां ताजी अब्राहम डॉक्टर हैं। वहीं पिता बिजू सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं। उन्हें यह खुशखबरी फादर्स डे के मौके पर मिली है। इस संयोग पर ताजी अब्राहम कहती हैं कि यह फादर्स डे का सबसे अच्छा तोहफा है। इसके अलावा परिवार में तनिष्क के दादी-दादा इस उपलब्धि पर बेहद खुश हैं। पोते को ग्रेजुएशन कैप में देख उन्हें गर्व महसूस हो रहा है। भारत में भी काफी लोगों ने तनिष्क की उपलब्धि पर इसे देश का गौरव बताया। साथ ही यह सवाल किया कि हम भारतीय प्रतिभा का उपयोग अपने देश के लिए कर पाने में विफल क्यों हैं।

ये भी पढ़िए:
– 37 हजार फीट की ऊंचाई पर विमान में हुई पायलटों के बीच हाथापाई, 157 यात्रियों की जान अटकी
– असम में कौन हैं वो 40 लाख लोग जिन पर छाया भारत से निकाले जाने का खतरा?
– गलत नीतियों से बर्बाद हुआ यह अमीर देश, यहां वकील भी कर रहे दूसरों के घरों में झाड़ू-पोछा

LEAVE A REPLY