pm modi and amit shah
pm modi and amit shah

नई दिल्ली। भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में विजन 2022 पेश किया गया है। यहां भाजपा के विभिन्न पदाधिकारी और शीर्ष नेता लोकसभा और विधानसभा चुनाव की तैयारियों पर मंथन के लिए जुटे हैं। रविवार की बैठक में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने राजनीतिक प्रस्ताव पेश किया है। इसके अनुसार वर्ष 2022 तक भारत से जातिवाद, संप्रदायवाद, आतंकवाद और नक्सलवाद के उन्मूलन की बात कही गई है। प्रस्ताव में कहा गया है कि केंद्र द्वारा भ्रष्ट लोगों पर कठोर कार्रवाई की गई है।

इस प्रस्ताव में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के मुद्दे को भी जगह मिली है। इसमें कहा गया है कि घुसपैठियों के लिए भारत में कोई स्थान नहीं होगा। हालांकि जो हिंदू, बौद्ध, सिख और ईसाई शरणार्थी पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश से आएंगे, उनकी सहायता की जाएगी।

पार्टी की ओर से प्रेस क्रॉन्फ्रेंस में केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में जो राजनीतिक प्रस्ताव रखा, उसे कार्यसमिति द्वारा पास कर दिया गया। इस पर विश्वास जताया गया है कि नए भारत का सपना पूर्ण होकर रहेगा। उन्होंने विपक्ष पर चुटकी लेते हुए कहा कि उनके पास न कोई नेता है, न कोई नीति और न ही कोई रणनीति। उन्होंने कहा कि इसी​लिए आज विपक्ष हताश है और नकारात्मकता की राजनीति कर रहा है।

भाजपा की इस बैठक में पार्टी द्वारा बीते सालों में हासिल की गई उपलब्धियों पर चर्चा की गई। पार्टी नेताओं ने कहा कि 2014 से भाजपा 15 राज्यों में चुनाव जीत चुकी है। वहीं 20 राज्यों में सरकार है। विपक्ष सिर्फ 10 राज्यों में है और कांग्रेस मात्र 3 राज्यों तक सिमट चुकी है। इस वजह से विपक्ष महागठबंधन जैसे विकल्प तलाश रहा है। उनके मुताबिक, विपक्ष के पास मोदी जैसा कोई नेता नहीं है। इसलिए वह खुद का लक्ष्य सिर्फ ‘मोदी रोको’ जैसे कार्यों को ही बना चुका है।

पार्टी की इस बैठक में राजग सरकार द्वारा आर्थिक क्षेत्र में उठाए गए बड़े कदमों की चर्चा की गई। नोटबंदी, जीएसटी जैसे सुधारों की चर्चा हुई। पार्टी की ओर से कहा गया कि शुरुआती कठिनाइयों के बाद अब अर्थव्यवस्था तेजी से बढ़ोतरी की ओर अग्रसर है। जीडीपी में वृद्धि इसका संकेत है। इसके अलावा भाजपा नेताओं ने देश की सुरक्षा के मुद्दे पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि अवैध रोहिंग्या और बांग्लादेशी घुसपैठिए बाहर निकाले जाएंगे। जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों द्वारा आतंकियों पर कठोर कार्रवाई का भी जिक्र हुआ।

ये भी पढ़िए:
– मोदी समर्थकों ने बताया ‘नोटा’ का दिलचस्प मतलब, खूब हो रहा वायरल
– हमारे पास दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता, स्पष्ट बहुमत से जीतेंगे चुनाव: अमित शाह
– शिकागो में भागवत का संबोधन- ‘हजारों वर्षों से प्रताड़ित रहे हिंदू, हमें साथ आना होगा’
– बीपी की समस्या से हैं परेशान तो इस पद्धति से कराएं इलाज, हो जाएंगे सेहतमंद

LEAVE A REPLY