mother with child
mother with child

बेंगलूरु। महिलाएं अपने बच्चों का तो बहुत ख्याल रखती हैं, लेकिन अपनी देखभाल नहीं कर पातीं। उनके बिजी रूटीन के कारण उन्हें कई तरह की बीमारियों को सामना करना पड़ रहा है। व्यस्त जीवन में महिलाओं ने परिवार को तो संभाल लिया है लेकिन अपने आप को नहीं संभाल पा रहीं। इसलिए वे एनीमिया की शिकार हो रही हैं।

इसमें खून में आयरन और विटामिन की कमी हो जाती है। डॉक्टरों का कहना है यदि समय पर इसका इलाज न किया गया तो बाद में लाइलाज बीमारी बन जाती है। न्यूट्रीशियंस के मुताबिक स्वस्थ रहने के लिए छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखना जरूरी है। इसलिए महिलाओं को कुछ छोटी-छोटी बातों का ख्याल रखना चाहिए।

– रोजाना दूध पीना चाहिए ताकि हड्डियां मजबूत रहें। प्रतिदिन योगा और मॉनिंग वॉक के साथ इवनिंग वॉक पर जाना चाहिए। महिलाओं को कैल्शियम की जरूरत होती है। इसलिए उन्हें खाने में दही का इस्तेमाल करना चाहिए।

 खाने में पौष्टिक आहारयुक्त दालें लेनी चाहिए। मॉर्निंग वॉक के साथ सोयाबीन को आटे का साथ मिक्स कर खाना चाहिए। फास्ट फूड को इग्नोर कर रोजाना एक गिलास जूस लें। हरी सब्जियों में पालक और लौकी का उपयोग ज्यादा करना फायदेमंद है।

– रोजाना सुबह तांबे के लोटे का पानी पीना चाहिए। इससे बीमारियां नहीं होतीं। शरीर की सभी रिक्वायरमेंट्स पर ध्यान देकर उन्हें पूरा करना चाहिए। कमजोरी को दूर करने के लिए और प्रॉपर एनर्जी के लिए ग्लूकोज के साथ इलेक्ट्रॉल पाउडर यूज करना चाहिए। समय पर ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर लेना जरूरी है। इससे डाइजेशन की समस्या नहीं होती।

ये भी पढ़िए:
क्या बच्चों में पैदाइशी दांत होना चिंता का विषय है?
दर्द निवारक दवा लेने से पहले जानें यह सच्चाई
जानें मेकअप किट की खास चीजों का इस्तेमाल, जो तुरंत निखारती हैं आपकी खूबसूरती
साधारण लगने वाले ये तरीके हैं बहुत असरदार, इनसे जल्द ठीक हो जाएगी गले की खराश

LEAVE A REPLY